बेंगलुरु/नई दिल्ली। कर्नाटक के राज्‍यपाल वजुभाई वाला ने बुधवार (16 मई) रात को बीजेपी को सरकार बनाने का न्‍योता भेज दिया है। अब बीएस येदियुरप्‍पा गुरुवार सुबह 9 बजे मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेंगे। येदियुरप्‍पा को शपथग्रहण करने के बाद 15 दिन में बहुमत साबित करने का मौका दिया गया है। बताया जा रहा कि शपथग्रहण समारोह में पीएम मोदी और अमित शाह मौजूद नहीं रहेंगे।

कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला द्वारा येदियुरप्पा को सरकार बनाने के लिए दिया गया पत्र

कांग्रेस ने भी सौंपा है समर्थन का पत्र

बता दें कि बुधवार शाम से ही कर्नाटक में सरकार बनाने को लेकर सभी पार्टियां अलग-अलग दावा कर रही थीं। इससे पहले बुधवार शाम को कांग्रेस और जेडीएस के नेताओं ने राजभवन जाकर राज्यपाल वजुभाई वाला से मुलाकात की थी और सरकार बनाने के लिए आवश्‍यक विधायकों के समर्थन की बात कही थी। जेडीएस और कांग्रेस ने राज्यपाल को 117 विधायकों के समर्थन का पत्र भी सौंपा। इसमें 78 कांग्रेस, 37 जेडीएस, एक बसपा और एक निर्दलीय विधायक के हस्ताक्षर हैं।

कर्नाटक बीजेपी ने किया था ट्वीट

उल्‍लेखनीय है कि इससे पहले कर्नाटक बीजेपी ने राज्य में सरकार बनाने को लेकर एक ट्वीट किया था, जिसमें पार्टी ने कहा कि येदियुरप्पा द्वारा मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। प्रदेश बीजेपी ने दावा किया कि वे गुरुवार सुबह 9 बजे शपथ लेंगे। हालांकि तबतक राजभवन से इस बाबत कोई भी जानकारी आधिकारिक रूप से नहीं आई थी। हालांकि इस ट्वीट के वायरल होने के बाद कर्नाटक बीजेपी ने अपने ट्विटर अकाउंट से इसे डिलीट कर दिया।