• इंडियन एयरफोर्स ने मोर्चा संभाला, 27 लोग बचाए गए, इनमें 8 की हालत गंभीर

चेन्नई। तमिलनाडु के थेनी जिले के जंगलों में रविवार शाम को अचानक भीषण आग लग गई। इस आग में वहां ट्रेकिंग पर गए चेन्‍नई के 30 कॉलेज छात्र भी फंस गए। आग में फंसकर अबतक 9 लोगों की मौत हो गई है। इनमें चार महिलाएं, चार पुरुष और एक बच्चा शामिल हैं। रेस्‍क्‍यू ऑपरेशन में 27 लोगों को बचा लिया गया है। इनमें 8 की हालत गंभीर है जबकि 10 को कम चोटें आई हैं।

बताया जा रहा है कि छात्र उस वक्‍त आग में फंस गए जब वह कुरंगनी पहाडि़यों पर ट्रेकिंग कर रहे थे। एक वरिष्‍ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि चेन्‍नई के 30 छात्र ट्रेकिंग के लिए गए थे लेकिन उन्‍होंने न तो पुलिस से इजाजत ली थी और न ही वन विभाग से। पुलिस ने बताया कि स्‍थानीय आदिवासी लोग और वन विभाग के लोग वहां पहुंचकर राहत और बचाव कार्य में जुट गए। मुख्‍यमंत्री पलानीस्‍वामी के अनुरोध पर रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने भारतीय वायुसेना को भी छात्रों के राहत एवं बचाव के निर्देश दिए हैं। रक्षा मंत्री ने बताया कि वे दक्षिणी कमांड थेनी के कलक्‍टर के साथ संपर्क में हैं।

निर्मला सीतारमण ने शाम करीब 7 बजे ट्वीट किया, ‘मैंने जिला कलक्‍टर से बात की, उन्‍होंने बताया कि 10-15 छात्रों को बचा लिया गया है। वो लोग पहाड़ी से नीचे आ रहे हैं।’ उन्होंने जिलाधिकारी के हवाले से बताया कि एक मेडिकल टीम भी मौके पर भेजी गई है और समीप के चाय बागान के कर्मचारी भी बचाव अभियान में मदद कर रहे हैं।