Breaking News

भारत-चीन कर सकते हैं अहम एलान, मोदी और जिनपिंग के बीच मुलाकातों का दौर शुरू

5 0

वुहान। बदलते विश्व और क्षेत्रीय समीकरणों के बीच भारत और चीन की ओर से शनिवार तक रिश्तों को लेकर कोई अहम एलान हो सकता है। इसकी बड़ी वजह पीएम नरेंद्र मोदी का चीन दौरा है। चीन में मोदी वहां के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से कई बार बैठक करने वाले हैं। वुहान शहर में दोनों के बीच मुलाकातों का सिलसिला शुरू भी हो चुका है।

दोनों के बीच होंगी 6 बैठक
मोदी और शी जिनपिंग के बीच 6 बैठक होने वाली हैं। इनमें से 2 बैठक में पीएम मोदी और जिनपिंग अपने ट्रांसलेटर्स के साथ ही होंगे। इन दोनों बैठक में दोनों देशों की तरफ से कोई भी अधिकारी शामिल नहीं होगा। इन बैठकों में दोनों देशों के नेता कोई अहम फैसला कर सकते हैं। इसके आसार इस वजह से लग रहे हैं, क्योंकि मोदी को अगले महीने शंघाई कॉरपोरेशन की बैठक में शामिल होने चीन जाना ही था। इससे पहले ही दो दिन के लिए चीन का दौरा और जिनपिंग से बैठकों का दौर इसके संकेत दे रहा है कि भारत और चीन किसी बड़े मसले पर साथ आ सकते हैं।

डेलीगेशन लेवल बातचीत भी होगी
पीएम मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच अकेले में बातचीत के अलावा ऐसी बैठक भी होंगी, जिसमें दोनों पक्षों के 6-6 लोग होंगे। इन बैठकों में भारत-चीन के बीच विवादों को किनारे रखकर आगे बढ़ने के रोडमैप पर चर्चा होगी। मोदी और जिनपिंग के बीच पहली मुलाकात हुवेई प्रांत के म्यूजियम में होगी। यहां एक खास प्रदर्शनी लगाई गई है।

और कहां होगी मुलाकात ?
मोदी और जिनपिंग के बीच ईस्ट लेक के किनारे स्टेट गेस्ट हाउस में भी बातचीत होगी। दोनों नेता डिनर के दौरान भी बातचीत करेंगे। मोदी के लिए खास गुजराती व्यंजन बनाए जा रहे हैं। हालांकि, बैठकों के लिए पहले से कोई मुद्दा तय नहीं है, लेकिन माना जा रहा है कि दोनों देश कोई अहम घोषणा कर सकते हैं।

जिनपिंग के गेस्ट हाउस जाएंगे मोदी
मोदी बातचीत के लिए जिनपिंग के गेस्ट हाउस भी जाएंगे। ये गेस्ट हाउस माओत्से तुंग के प्रसिद्ध विला के पास ही है। चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के संस्थापक रहे माओ इसी विला में विदेशी नेताओं से मिलते थे।

शनिवार को भी होगी मोदी-जिनपिंग बातचीत
नरेंद्र मोदी और शी जिनपिंग के बीच शनिवार को भी तीन बार अकेले में बातचीत होगी। इससे पहले मोदी और जिनपिंग ईस्ट लेक के पास टहलेंगे और लेक में नाव पर सैर भी करेंगे। इसके बाद दोनों नेता लंच लेंगे। लंच के बाद मोदी के भारत लौटने की संभावना है।

केरल के छात्रों ने लगाए मोदी-मोदी के नारे
इससे पहले गुरुवार रात को वुहान पहुंचे मोदी का स्वागत चीन के कई अफसरों ने किया। शी जिनपिंग सारी व्यवस्था देखने के लिए बुधवार को ही वुहान पहुंच चुके थे। मोदी को होटल ले जाया गया। जहां मोदी का स्वागत करने के लिए केरल के तमाम छात्र जुटे थे। ये छात्र मोदी-मोदी का नारा लगाते देखे गए। मोदी ने भी हाथ हिलाकर और नमस्ते करके छात्रों के स्वागत का जवाब दिया।

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *