Breaking News

फिर सामने आए पनामा पेपर्स, इस बार भी भारत के कई धनकुबेरों के नाम

18 0
  • नए पेपर्स में एयरटेल प्रमुख सुनील मित्तल के बेटे के अलावा पीवीआर सिनेमा के मालिक के भी नाम

नई दिल्‍ली। पनामा पेपर्स एक बार फिर चर्चा में आ गए हैं। अबकी पनामा के लॉ फर्म मोस्साक फॉन्सेका के कुछ ऐसे दस्तावेज सामने आए हैं जिनमें कई नए भारतीयों के नाम हैं। इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, नए पनामा पेपर्स में पीवीआर सिनेमा के मालिक और एयरटेल के प्रमुख सुनील मित्तल के बेटे केविन मित्तल का भी नाम है। इन नामों के सामने आने के बाद भारतीय उद्योग जगत की साख को धक्‍का लग सकता है। 

क्या है नए दस्तावेजों में ?

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, इंटरनेशनल कंसोर्श‍ियम ऑफ इन्वेस्ट‍िगेटिव जर्नलिस्ट ने 12 लाख से ज्यादा नए दस्तावेजों की जांच की है। इनमें से कम से कम 12,000 नए दस्तावेज भारतीयों से संबंधित हैं। ताजा लीक हुए पनामा पेपर्स में कई दिग्‍गज भारतीय कारोबारियों के नाम हैं। इनमें पीवीआर सिनेमा के मालिक अजय बिजली और उनके परिवार के सदस्य, हाइक मैसेन्जर के सीईओ और टेलीकॅाम दिग्गज सुनील मित्तल के बेटे कवीन मित्तल, एशियन पेंट्स के सीईओ अश्विन दानी के बेटे जलज दानी शामिल हैं। नए दस्तावेजों के अनुसार ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड स्थ‍ित कंपनी मार्डी ग्रैस होल्ड‍िंग्स के मालिक लोकेश शर्मा ने साल 2016 में पनामा पेपर्स लीक के बाद कंपनी में अपनी हिस्सेदारी 30 गुना तक बढ़ा दी है।

सन ग्रुप के मालिक समेत हैं कई दिग्‍गज

अखबार के अनुसार, टैक्स हैवन देशों की कंपनी से ताल्लुक रखने वाले अन्य भारतीय दिग्गजों के नाम इस प्रकार हैं –

  • सन ग्रुप के प्रमुख नंदलाल खेमका के बेटे शिव विक्रम खेमका
  • बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन
  • पूर्व अटॉर्नी जनरल सोली सोराबजी के बेटे जहांगीर सोराबजी
  • डीएलएफ समूह के प्रमुख केपी सिंह
  • लोकसत्ता पार्टी के पूर्व नेता अनुराग केजरीवाल
  • मेहरा सन्स ज्‍वेलर्स के मालिक नवीन मेहरा
  • अंडरवर्ल्ड डॉन इकबाल मिर्ची की पत्‍नी हाजरा इकबाल मेमन

बता दें कि दो साल पहले लीक हुए पेपर्स में अमिताभ बच्चन का नाम तीन कंपनियों लेडी शिपिंग, ट्रेजर शिपिंग और सी बल्क शिपिंग से जोड़ा गया था, लेकिन उस समय उन्होंने इन कंपनियों या टैक्स हैवन देश में किसी एसेट से जुड़ाव से साफ इनकार किया था।

दो साल पहले भी 500 भारतीयों के नाम आए थे सामने

बता दें कि दो साल पहले 2016 में इंडियन एक्सप्रेस और अंतरराष्ट्रीय खोजी पत्रकारों के संगठन आईसीजे ने पनामा पेपर्स को खंगाला था जिनमें रूस के राष्ट्रपति पुतिन, पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ और बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन सहित कई राजनीतिक हस्तियां भी शामिल थीं। इन पेपर्स में कहा गया था कि इन लोगों ने टैक्स हैवन कहे जाने वाले देशों में काला धन छिपाया है। इन दस्‍तावेजों में करीब 500 भारतीयों के नाम थे। इसके बाद केंद्र सरकार ने एक मल्टी एजेंसी ग्रुप (MAG) बनाया जो लिस्ट में शामिल 426 भारतीयों के बारे में जांच-पड़ताल कर रहा है। इस जांच के आधार पर करीब 1,000 करोड़ के काले धन का पता लगाया गया है।

Related Post

भ्रष्टाचार खत्म करने को हर कीमत चुकाने को तैयार:मोदी

Posted by - November 30, 2017 0
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को दिल्ली में हुए एक कार्यक्रम में भ्रष्टाचार, नोटबंदी, और केंद्र सरकार की कई…

अमेरिका के टेक्‍सास के चर्च में बरसाईं गोलियां, 27 की मौत

Posted by - November 6, 2017 0
हमलावर ने रविवार को प्रेयर के दौरान की अंधाधुंध फायरिंग, हमले में 24 लोग जख्‍मी टेक्सास। अमेरिका के सदरलैंड स्प्रिंग…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *