• ‘ट्विप्लोमेसी’ ने जारी किए दुनियाभर के नेताओं के फेक फॉलोवर्स के आंकड़े

नई दिल्लीदुनिया की सरकारी और अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं के लिए सोशल मीडिया की रणनीति बनाने में मदद करने वाली संस्था ‘ट्विप्लोमेसी’ की रिपोर्ट में हाल ही में दुनियाभर के नेताओं, धर्मगुरुओं से लेकर सेलिब्रिटीज़ तक के ट्विटर  फॉलोअर्स की रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट की सबसे अहम बात यह है कि भारत के पीएम नरेंद्र मोदी दुनिया में सबसे ज्यादा फेक फॉलोअर्स वाले नेता बन गए हैं।

ट्विप्लोमेसी के ट्वीट में कहा गया है कि दुनिया के कुछ सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले विश्व नेता और उन्हें फॉलो करने वालों को ट्विटर ऑडिट ने पहचाना है। इस रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ट्विटर प्लेटफॉर्म पर सबसे ज़्यादा फर्जी फॉलोअर्स हैं। ट्विटर पर उन्हें 40.3 मिलियन लोग फॉलो करते हैं, जिनमें से 60 फीसदी फॉलोअर्स फर्जी हैं। वहीं ईसाईयों के सबसे बड़े धर्मगुरु पोप फ्रांसिस के ट्विटर पर 16.7 फॉलोअर्स हैं और इनमें से 59 फीसदी फेक फॉलोअर्स हैं। फर्जी फॉलोवर्स की इस सूची में हॉलीवुड स्टार किम कार्दशियां भी पीछे नहीं हैं। उनके ट्विटर पर 59.2 फॉलोअर्स हैं, जिनमें से 44 फीसदी फेक फॉलोअर्स हैं।

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप भी पीछे नहीं

दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के ट्विटर पर 47.9 मिलियन फॉलोअर्स हैं, लेकिन उनमें से 37 फीसदी फॉलोअर्स फर्जी हैं। इस सूची में अमेरिका के पड़ोसी देश मेक्सिको के राष्ट्रपति पेना निएटो के ट्विटर पर 7.12 मिलियन फॉलोअर्स हैं, मगर इनमें से करीब 47 फीसदी फेक फॉलोअर्स हैं। इस रिपोर्ट की मानें तो सऊदी के किंग सलमान के ट्विटर पर 6.78 मिलियन फॉलोअर्स हैं और इनमें से 8 फीसदी फेक फॉलोअर्स हैं।

ट्विटर ने नहीं जारी किया कोई बयान

गौरतलब कि ट्विटर ऑडिट एक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है। ये एजेंसी ट्विटर के फेक अकाउंट को पहचान करने का दावा करती है। हालांकि इसके लिए सब्सक्रिप्शन लेनी होती है। इसी आधार पर ट्विप्लोमेसी ने दुनियाभर के नेताओं के फेक फॉलोवर्स के आंकड़े जारी किए हैं। बता दें कि इस रिपोर्ट पर ट्विटर की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं जारी किया गया है।