• इस नए अंग की खोज से कैंसर के फैलने के बारे में मिलेगी ज्यादा जानकारी

लंदन। वैज्ञानिकों ने इंसान के शरीर में एक नए अंग की खोज की है। ये अंग हमारे पूरे शरीर में फैला होता है, लेकिन हैरत की बात ये है कि अब तक किसी को इसके बारे में जानकारी नहीं थी। वैज्ञानिकों को उम्मीद है कि इस नए अंग की खोज से कैंसर के फैलने के बारे में ज्यादा जानकारी मिलेगी।

नए अंग का नाम क्या ?
वैज्ञानिकों ने नए अंग का नाम ‘इंटरस्टीशियम’ रखा है। उनके मुताबिक, हमारे शरीर में खाल की परत में एक घना और संयोजक टिश्यू देखा जाता था। इसे खाल का ही हिस्सा माना जाता था, लेकिन ये तरल पदार्थ से भरे कंपार्टमेंट हैं। खाल के नीचे ये कंपार्टमेंट शरीर में हर तरफ फैला होता है। यही नया अंग है।

और कहां मिलते हैं इंटरस्टीशियम ?
वैज्ञानिकों के मुताबिक, खाल के अलावा इंटरस्टीशियम नाम का नया अंग आंत, फेफड़े, ब्लड वेसेल और मांसपेशियों के नीचे भी पाए जाते हैं। आपस में मिलकर ये शरीर में एक नेटवर्क बनाते हैं। इंटरस्टीशियम मजबूत और लचीले प्रोटीन के जाल से घिरे होते हैं।

सबसे बड़े अंगों में से एक
इंटरस्टीशियम शरीर के बड़े अंगों में से एक है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, इंटरस्टीशियम शरीर में शॉक एब्जॉर्वर का काम करते हैं। इस अंग की खोज इजराइल मेडिकल सेंटर में कैंसर के संकेतों का पता लगाने के दौरान डॉ. डेविड कारलॉक और डॉ. पेट्रोस बेनियास ने की।