• चारा घोटाला के दुमका कोषागार मामले में अदालत अब 19 मार्च को सुनाएगी फैसला

रांची। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव को शनिवार (17 मार्च) को सीने में दर्द की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया है। रांची के राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (रिम्स) में डॉक्टरों ने उनके ईसीजी और अन्य टेस्ट किए। उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है। कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. प्रवीण झा व डॉ. मृत्युंजय सरावगी की देखरेख में उनका इलाज चल रहा है। खबरों की मानें तो लालू का शुगर लेबल बढ़ गया है। उनको हार्ट संबंधी समस्या पहले से थी।

बेटे तेजप्रताप रांची पहुंचे

पिता लालू प्रसाद यादव की तबीयत खराब होने की सूचना मिलते ही उनके बड़े बेटे तेज प्रताप यादव रांची पहुंच गए। वहीं लालू के रिम्स पहुंचने के पहले ही राजद नेता रघुवंश प्रसाद वहां पहुंच गए थे। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘मैं कोर्ट में उनका इंतजार कर रहा था। आज सुनवाई होनी थी, लेकिन टल गई। मुझे पता चला कि उनकी तबीयत खराब है और उन्हें रिम्स लाया जाएगा, इसलिए मैं यहां आया हूं। बता दें कि लालू यादव इस समय चारा घोटाला मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद रांची के बिरसा मुंडा जेल में बंद हैं।

चारा घोटाला से जुड़े एक मामले में फैसला 19 को

चारा घोटाला के दुमका कोषागार मामले में अदालत ने फैसला टाल दिया है। शनिवार को ही इस मामले में फैसला आना था, लेकिन अब अदालत सोमवार (19 मार्च) को फैसला सुनाएगी। इस मामले में लालू प्रसाद और पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र समेत 31 लोग आरोपी हैं जिनके खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत सोमवार को फैसला सुनाएगी। सीबीआई के विशेष न्यायाधीश शिवपाल सिंह का प्रशिक्षण कार्यक्रम होने के चलते शनिवार को न्यायिक कार्य नहीं हो सके।