Breaking News
योगगुरु

बाबा रामदेव की खास चीज हुई लापता, योगगुरु की कंपनी बोली- जल्द मिलेगी

13 0

नई दिल्ली। बाबा रामदेव की खास चीज लापता हो गई है। इस पूरे मामले को लेकर पतंजलि में हड़कंप मच गया। हालांकि, योगगुरु की कंपनी ने दावा किया है कि जल्दी ही ये चीज वापस मिल जाएगी।

बाबा रामदेव की क्या चीज लापता हुई ?

बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि कम्युनिकेशन्स ने किंभो नाम का मैसेजिंग एप लॉन्च किया था। ये एप गुरुवार सुबह तक गूगल प्लेस्टोर पर मौजूद था, लेकिन दोपहर आते-आते प्लेस्टोर से गायब हो गया। इसके बाद किंभो के ट्विटर पेज पर बताया गया कि ज्यादा ट्रैफिक की वजह से एप को हटाना पड़ा है। किंभो वाले सर्वर की क्षमता बढ़ाई जा रही है और जल्दी ही एप फिर दिखने लगेगा।दरअसल, बाबा रामदेव ने वाट्सएप की टक्कर में अपना नया किंभो मैसेजिंग एप लॉन्च किया, लेकिन इस एप के बीटा वर्जन में तमाम खामियां दिख रही थीं।

क्या थीं किंभो में खामियां ?
पतंजलि कम्युनिकेशंस का किंभो एप ठीक से काम नहीं कर रहा था। इससे वॉयस कॉल नहीं हो रहे थे। साथ ही वीडियो कॉलिंग भी नहीं हो रही थी। टेक्स्ट मैसेज जा तो रहे थे, लेकिन रिसीव नहीं हो रहे थे।
एप के स्टिकर्स मजेदार
किंभो में स्टिकर्स वाला फीचर मजेदार दिख रहा था। इसमें परेशान मत कर और बस जैसे स्टीकर थे। यानी आम लोगों की बोलचाल में स्टिकर्स बनाए गए। आने वाले वक्त में इसमें कई और फीचर जोड़े जाने की उम्मीद की जा रही है।

किंभो में और भी फीचर
बाबा रामदेव के किंभो एप में स्क्रीन पर चैट, कॉन्टैक्ट्स और एक्टिविटी टैब मिलेंगे। इसके अलावा मुख्य स्क्रीन पर गियर आयकन में प्रोफाइल एडिट करने का ऑप्शन दिया गया है। पेंसिल जैसे बटन से आप डूडल यानी कलाकृति बना सकते हैं। प्रोफाइल पेज पर अपना नाम और फोटो सेट कर सकते हैं। फोन नंबर बदलने का ऑप्शन भी है। फोटो और वीडियो को खुद ही डाउनलोड किया जा सकता है। साथ ही इस एप को दूसरे एप पर लिंक भेजकर शेयर भी कर सकते हैं।

टाइपिंग में सजेशन
बाबा रामदेव की पतंजलि कम्युनिकेशन्स के किंभो एप में मैसेज को टाइप करते वक्त टाइपिंग बार के नीचे सजेशन के लिए आइकन मिलेगा। इस पर टैप करते ही नमस्ते, राम-राम, इन मीटिंग जैसे सजेशन दिखते हैं।

Related Post

क्यूबा में उड़ान भरते ही विमान दुर्घटनाग्रस्त, 100 से अधिक के मारे जाने की आशंका

Posted by - मई 19, 2018 0
हवाना। क्‍यूबा की राजधानी हवाना के जोस मार्टी हवाई अड्डे पर शुक्रवार (18 मई) को उड़ान भरने के तुरंत बाद क्यूबा…

सेना को दिए 30 साल, अब साबित करनी पड़ रही भारतीय नागरिकता

Posted by - अक्टूबर 1, 2017 0
पूर्व सैनिक मो. अजमल हक को बांग्लादेशी घुसपैठिया बता असम पुलिस ने जारी किया नोटिस गुवाहाटी। मोहम्मद अजमल हक ने…

सीनेट में अमेरिकी सांसदों के सवालों ने जुकरबर्ग को पिला दिया पानी

Posted by - अप्रैल 11, 2018 0
जुकरबर्ग ने भारत में 2019 में होने वाले आम चुनावों में कड़ी सतर्कता बरतने का दिया आश्‍वासन वॉशिंगटन। फेसबुक बनाने…

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *