वॉशिंगटन। अभी गर्मी का मौसम है। ऐसे मौसम में, जब खूब पसीना निकलता हो और बदन चिपचिपा हो जाता हो, तो हम और आप कई बार नहाते हैं, लेकिन जरा ठहरिए। एक शोध के मुताबिक, एक ही दिन में कई बार और यहां तक कि रोज नहाना भी ठीक नहीं है। सुनकर अचरज तो हो ही रहा होगा ? लेकिन एक शोध के बाद ये नतीजा निकला है। वहीं, डॉक्टरों का कहना है कि हफ्ते में एक या दो दिन ही नहाना ठीक रहता है।

शोध से क्या पता चला ?
ये शोध कोलंबिया यूनिवर्सिटी की इन्फेक्शस डिजीज एक्सपर्ट डॉ. एलीन लारसन ने किया। लारसन ने अपने शोध में पाया कि रोज या बार-बार नहाने से हमारी स्किन ड्राइ हो जाती है। इससे वो सख्त होकर टूटने लगती है। इस टूटे हिस्से से वायरस और बैक्टीरिया शरीर में पहुंचते हैं, जो हमें गंभीर रूप से बीमार कर सकते हैं। डॉ. एलीन का कहना है कि दुनियाभर में लोग मानते हैं कि नहाने से वो बीमारियों से बचे रहेंगे, लेकिन हकीकत में नहाने से सिर्फ शरीर की बदबू ही दूर होती है।

डॉक्टर भी कर रहे हैं समर्थन
अंग्रेजी वेबसाइट dailymail.co.uk  को जॉर्ज वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी के डरमेटोलॉजिस्ट डॉ. सी. ब्रैंडन मिचेल ने बताया कि रोज नहाना ठीक नहीं है। डॉ. मिचेल के मुताबिक, त्वचा से नैचुरल ऑयल निकलते हैं। नहाने से ये खत्म हो जाता है। साथ ही स्किन पर कुछ अच्छे बैक्टीरिया भी होते हैं। नहाने से वो भी खत्म हो जाते हैं। इससे हमारा इम्यून सिस्टम बिगड़ सकता है और इससे गंभीर बीमारी हो सकती है। डॉ. मिचेल का तो ये भी कहना है कि हफ्ते में सिर्फ एक या दो बार ही नहाना चाहिए।

साबुन भी मत कीजिए इस्तेमाल
डॉ. मिचेल ने कहा कि वो शरीर पर साबुन भी न लगाएं। उनके मुताबिक बगलों और पैर पर साबुन लगाया जा सकता है, लेकिन शरीर पर साबुन लगाकर जोर-जोर से घिसना सही नहीं है।