• मध्‍य प्रदेश के सरकारी स्‍कूलों में नए शैक्षणिक सत्र से लागू हो जाएगा यह आदेश

भोपाल। मध्य प्रदेश के सरकारी स्कूलों के छात्र-छात्राएं अब हाजिरी के दौरान ‘यस सर’ या ‘यस मैडम’ नहीं, बल्कि ‘जय हिंद’ बोलेंगे। सीएम शिवराज सिंह की सरकार ने इस बारे में बाकायदा आदेश भी जारी कर दिए हैं। यह आदेश नए शैक्षणिक सत्र से लागू होगा। शिक्षा विभाग का कहना है कि इससे छात्रों में देशभक्ति की भावना जाग्रत होगी।

क्‍या कहा गया है आदेश में ?

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के हस्ताक्षर से जारी इस आदेश में कहा गया है कि प्रदेश के स्कूलों में उपस्थिति के लिए छात्र अलग-अलग शब्दों का प्रयोग करते है। इसके कारण राज्य सरकार ने फैसला किया है कि छात्र-छात्राओं में देशभक्ति की भावना जगाने के लिए स्कूलों में उपस्थिति के दौरान वे ‘जय हिन्द’ बोलेंगे।

पिछले साल शिक्षा मंत्री ने दिया था संकेत

बता दें कि पिछले साल ही राज्‍य के शिक्षा मंत्री कुंवर विजय शाह ने 12 सितंबर, 2017 में सतना जिले के एक स्कूल में कहा था कि सरकारी स्‍कूलों में बच्‍चों को हाजिरी के समय अब ‘जय हिंद’ बोलना होगा। इसके बाद ‘जय हिन्द’ बोलने की शुरुआत मध्य प्रदेश के सतना जिले से ही हुई। सतना जिले के सभी सरकारी स्कूलों में साल 2017 में 3 अक्टूबर से ही हाजिरी के दौरान बच्चों ने ‘यस सर’ या ‘यस मैम’ की जगह ‘जय हिंद’ बोलना शुरू कर दिया था।