Breaking News

दिल्ली के आर्चबिशप चाहते हैं सेक्युलर सरकार, मोदी के मंत्री ने साधा निशाना

3 0

नई दिल्ली। ईसाइयों के कैथलिक समुदाय के बड़े धर्मगुरुओं में शुमार दिल्ली के आर्चबिशप अनिल कूटो को 2019 के चुनाव के बाद सेक्युलर सरकार चाहिए। उन्होंने एक अंग्रेजी टीवी चैनल से बातचीत में ये बात कही है। वहीं, कूटो के इस बयान के बाद बीजेपी के नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने उन पर निशाना साधा है। गिरिराज सिंह ने कहा है कि अगर आर्चबिशप ईसाई समुदाय से सेक्युलर सरकार के लिए प्रार्थना करने को कहा है, तो हिंदू भी कीर्तन करेंगे। वहीं, केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत एक ऐसा देश है, जहां किसी अल्पसंख्यक समुदाय के साथ गलत व्यवहार नहीं होता है।

आर्चबिशप ने अब ये कहा
बयान पर विवाद खड़ा होने के बाद चौतरफा घिरे आर्चबिशप अनिल कूटो ने एक अंग्रेजी टीवी चैनल से खास बातचीत में कहा कि वो देश में अगली सरकार सेक्युलर चाहते हैं। कूटो के मुताबिक वो ईसाई समुदाय की बात करते हैं। दिल्ली के आर्चबिशप के मुताबिक उन्होंने 2019 के लिए विशेष प्रार्थना करने की बात कही। कूटो के अनुसार हर व्यक्ति किसी न किसी राजनीतिक पार्टी की विचारधारा को मानता है। उनका ये भी कहना था कि हर मामले में चर्च की एक भूमिका होती है। उन्होंने कहा कि ईसाइयों की भावनाओं को उन्होंने अपनी चिट्ठी में जताया है।

आर्चबिशप ने क्या दिया था बयान ?
दिल्ली के आर्चबिशप ने 3 मई को सभी कैथलिक पादरियों को एक चिट्ठी भेजी थी। इसमें उन्होंने लिखा है – ‘मौजूदा राजनीतिक हालात में उथल-पुथल है। लोकतंत्र और सेक्युलरिज्म को खतरा है। ऐसे में हम सभी को 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले देश के लिए प्रार्थना करनी चाहिए।’ आर्चबिशप अनिल कूटो ने चिट्ठी में ये भी लिखा था कि ‘हम अपने देश और उसके राजनेताओं के लिए हमेशा ही प्रार्थना करते रहे हैं, लेकिन आम चुनावों से पहले हमें ज्यादा प्रार्थना करनी चाहिए क्योंकि हम जब आगे की ओर देखते हैं तो पाते हैं कि 2019 में देश में एक नई सरकार होगी। ऐसे में हमें देश के लिए प्रार्थना शुरू करनी चाहिए।’

आर्चबिशप के सचिव ने पहले दी थी सफाई
इस चिट्ठी के सामने आने के बाद आर्चबिशप के सचिव फादर रॉबिन्सन रॉड्रिग्‍ज ने इस चिट्ठी पर सफाई दी है। फादर रॉबिन्सन रॉड्रिग्‍ज ने कहा है कि पहले भी आम चुनाव से पहले कैथलिक समुदाय के पादरी और आर्चबिशप विशेष तौर पर प्रार्थना करते रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि हर बार की तरह इस बार भी चिट्ठी भेजी गई थी, लेकिन इसे लेकर सियासत शुरू हो गई।

Related Post

हाईकोर्ट ने कहा – आयकर विभाग और ईडी करे राम रहीम की संपत्ति की जांच

Posted by - सितम्बर 28, 2017 0
डेरे में सभी निर्माण और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों की भी जांच का आदेश दिया हरियाणा हाईकोर्ट ने सरकार ने…

11वें दिन भी नहीं चली लोकसभा, नहीं पेश हो सका अविश्वास प्रस्ताव

Posted by - मार्च 19, 2018 0
लोकसभा स्‍पीकर ने हंगामे के चलते अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस स्वीकारने से किया इनकार राज्‍यसभा में भी विपक्ष के जोरदार…

प्रद्युम्न हत्‍याकांड में ट्विस्‍ट : स्‍कूल के ही सीनियर छात्र ने की थी मासूम की हत्‍या

Posted by - नवम्बर 8, 2017 0
जुवेनाइल जस्टिस कोर्ट ने आरोपी छात्र को तीन दिन की सीबीआई हिरासत में सौंपा परीक्षा और पैरेंट्स-टीचर्स मीटिंग (पीटीएम) टलवाने…

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *