मुंबई। बॉलीवुड की चमक-दमक भला किसे नहीं भाती, लेकिन मायानगरी में काम मिलना आसान नहीं। खासकर उनके लिए, जो किसी स्टार के परिवार का हिस्सा नहीं हैं। कदम-कदम पर मुश्किलों से दो-चार होकर उन्हें अपनी राह तलाशनी पड़ती है। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर हम आपको बताने जा रहे हैं कई एक्ट्रेस के बारे में, मेहनत ही बॉलीवुड में जिनकी पहचान की वजह बनी।

मुंबई की छोटी सी चॉल से हॉलीवुड तक हुआ नाम


ये कहानी है मुमताज बेगम जहां देहलवी उर्फ मधुबाला की। मधुबाला, जिनकी खूबसूरती की टक्कर बॉलीवुड में कोई और एक्ट्रेस नहीं ले सकी। छह भाई-बहनों में शामिल मधुबाला का परिवार बेहद गरीब था। मुंबई की एक छोटी सी चॉल में पूरा परिवार रहता था। एक दिन डॉकयार्ड में आग लगी और वो चॉल भी जलकर राख हो गया। परिवार को मुश्किलों से निकालने के लिए मधुबाला को काफी कम उम्र में फिल्मों में कदम रखना पड़ा। किस्मत ने पलटा खाया और मधुबाला, बॉलीवुड में अप्रतिम सौंदर्य की देवी बनकर अपनी मौत तक छाई रहीं।

फिल्मों से सांसद तक नरगिस छाई रहीं


बॉलीवुड में एक दौर था, जब नरगिस का सिक्का चलता था। उन्हें रोल दिया जाना फिल्म की सफलता की गारंटी होती थी। फिर भी नरगिस का बचपन काफी मुश्किलों में गुजरा। उनकी मां जद्दनबाई नाच-गाकर परिवार पालती थीं। परिवार की माली हालत सुधारने के लिए छह साल की उम्र में नरगिस ने फिल्मी दुनिया में कदम रखा। एक दौर था, जब राज कपूर के साथ उनकी मशहूर जोड़ी बनी और भारत से लेकर विदेश तक हिट रही। नरगिस को कांग्रेस ने राज्यसभा सदस्य भी बनाया। जहां, उन्होंने महिलाओं के लिए तमाम बार आवाज उठाई।

46 साल तक श्रीदेवी करती रहीं फिल्मों में काम


हाल ही में श्रीदेवी का दुबई में निधन हो गया। श्रीदेवी के बारे में कम ही लोगों को पता है कि महज चार साल की उम्र में उन्होंने पहली बार तमिल फिल्म इंडस्ट्री में अपने पैर रखे थे। तमिल फिल्मों के अलावा श्रीदेवी ने मलयालम, तेलुगू और कन्नड़ सिनेमा में तो रोल किए ही, लेकिन बॉलीवुड में उनकी एंट्री ने बाकी सबको पीछे छोड़ दिया। बॉलीवुड की पहली दीवा के तौर पर वो फेमस हुईं। शादी के बाद कुछ साल छोड़ दें, तो श्रीदेवी ने 46 साल तक अपनी एक्टिंग के जौहर दिखाए। पांच फिल्मफेयर अवॉर्ड उनकी अदाकारी की खासियत बताते हैं। उन्हें पद्मश्री सम्मान से भी नवाजा गया।

गांव से आकर फिल्मों में छा गईं कंगना


अपनी एक्टिंग के अलावा कंगना रानौत विवादों की वजह से भी चर्चा में रही हैं। कम ही लोगों को जानकारी है कि कंगना का घर हिमाचल प्रदेश के एक छोटे से गांव में है। गांव से निकली कंगना ने बॉलीवुड में पैर रखने से पहले दिल्ली में अस्मिता थियेटर ग्रुप के साथ कई नाटकों में काम किया। आज वो कामयाब हैं। गांव से बॉलीवुड में अपनी पहचान बनाने के लिए कंगना को कई दुश्वारियों का सामना करना पड़ा। कई बार अपने इंटरव्यू में वो इस बारे में कहती रही हैं।

बबली गर्ल ने भी अदाकारी के गाड़े झंडे


प्रीति जिंटा अपने डिंपल्स की वजह से बॉलीवुड में चर्चित रहीं। उनके गालों पर पड़ने वाले डिंपल्स उनकी खूबसूरती को चार चांद लगाने वाले रहे। फिर भी उनका सफर भी मुश्किलों से अछूता नहीं रहा। शादी के बाद अब अमेरिका में रहने वाली प्रीति जिंटा हिमाचल प्रदेश के शिमला से हैं। उनके परिवार का बॉलीवुड से कोई कनेक्शन नहीं है, लेकिन प्रीति ने हिम्मत दिखाई और मुंबई आ गईं। शायद ही कोई बड़ा एक्टर होगा, जिसके साथ प्रीति ने काम न किया हो। सिर्फ फिल्में ही नहीं, प्रीति ने क्रिकेट की दुनिया में भी कदम रखा और किंग्स इलेवन पंजाब की टीम बनाकर आईपीएल में भी दमदार दस्तक दी।