बॉलीवुड के जाने-माने एक्टरों में शुमार जितेंद्र के ऊपर इन दिनों मुसीबत के काले बादल मंडराते नजर आ रहे हैं। जितेन्द्र के खिलाफ शिमला पुलिस ने यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज किया है। अब आपके जेहन में ये सवाल उठ रहा होगा कि आखिर जितेन्द्र के खिलाफ किसने ये मामला दर्ज करवाया हैतो आपको बता दें कि ये केस किसी बाहर वाले ने नहीं, बल्कि उनकी ही कजन ने दर्ज करवाया है।

ख़बरों के मुताबिक, बीते फरवरी महीने में एक महिला ने जितेन्द्र के खिलाफ हिमाचल प्रदेश के डीजीपी एसआर मार्डी को एक मेल किया था। इस मेल में जितेंद्र के खिलाफ यौन उत्पीड़न का केस दर्ज करने को कहा गया था। महिला ने बताया उस समय जितेंद्र का असली नाम रवि कपूर था।

जितेंद्र के खिलाफ यौन उत्पीड़न मामले को लेकर शिमला के एसपी उमापति जामवाल ने एक अंग्रेजी अखबार को बताया है कि आईपीसी की धारा 354 के तहत छोटा शिमला पुलिस स्टेशन में केस दर्ज कर लिया गया है। एसपी ने कहा कि हमें पीड़ित महिला का ई-मेल मिला था, जिसके बाद महिला से लिखित में शिकायत दर्ज कराई गई। उन्होंने बताया कि जल्द ही महिला का बयान रिकॉर्ड किया जाएगा।

इतना ही नहीं, पिछले दिनों जितेन्द्र की कजिन ने शिकायत दर्ज कराने के साथ उनकी गिरफ्तारी की मांग भी की थी। बता दें कि जितेंद्र और उनकी कजिन से जुड़ा ये मामला लगभग 47 साल पुराना है। उस दौरान एफआईआर दर्ज कराने वाली महिला की उम्र 18 साल थी और जितेन्द्र की उम्र 28 साल।

वहीं जितेंद्र की कथित कजिन का कहना है, ‘मुझे इस घटना को बताने में सालों लग गए। इसकी हिम्मत मुझे इन दिनों चल रहे फेमिनिस्ट अवेयरनेस कैंपेन  #METOO की वजह से मिली। इस आंदोलन की वजह से दुनिया की लाखों पीड़ितों को अपनी बात सामने रखने की हिम्मत मिली है। इस तरह के कैंपेन के चलते परिवार और रिश्तेदारों द्वारा यौन उत्पीड़न का शिकार होने वाले पीड़ितों में अब उम्मीद की किरण जागी है।