गरीब बच्चें पढ़ सकें इसलिए पुलिस ने थाने में बना दिया स्टडी रूम, खूब हो रही है तारीफ

137 0

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस की गरीब बच्चों की पढ़ाई के लिए एक ऐसा कदम उठाया है जिसकी लोग जमकर तारीफ कर रहे हैं। पुलिस ने झुग्गियों और बहुत छोटे घरों में रह रहे परिवारों के बच्चों के लिए थाने में ही स्टडी रूम बनवाया है ताकि बच्चे आराम से पढ़ाई कर सकें।

नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली के नंदनगरी थाने में एक स्टडी रूम पुलिस ने बनाया है। इस स्टडी रूम में 9वीं से लेकर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले छात्र छात्राएं बैठकर पढ़ाई कर सकेंगे। पुलिस की ओर से यहां कुर्सी वगैरह के साथ-साथ कुछ किताबों का भी इंतजाम किया गया है।

नंदनगरी सब-डिविजन के एसीपी सुबोध कुमार गोस्वामी का कहना है कि आस-पास के छोटे-छोटे घरों में पढ़ने वाले बच्चों से बात कर पाया कि वो ठीक से पढ़ नहीं पाते हैं। तो उनके दिमाग में थाने में एक कमरे को स्टडी रूम बनाने का आइडिया आया। उन्होंने नंदनगरी थाने के एक बड़े से हॉल को स्टडी रूम बना दिया। अफसरों ने बताया है कि सर्दियों में हीटर और गर्मियों में एसी का इंतजाम भी पुलिस करेगी।

पुलिस की ओर से कहा गया है कि उनकी कोशिश छात्रों को करियर काउसंलिग के लिए एक्सपर्ट की सुविधा दिलाने की भी है। खासतौर से 12वीं के बच्चों के करियर से जुड़े सवालों को लेकर उनकी मदद भी की जाएगी।

Related Post

गणतंत्र दिवस : राजपथ पर दिखी भारत की सैन्य ताकत व सांस्कृतिक विरासत

Posted by - January 26, 2018 0
परेड में पहली बार बीएसएफ की महिला जवानों ने मोटर साइकिल पर दिखाए हैरतअंगेज करतब राष्ट्रपति ने वायुसेना के शहीद…

वायुसेना प्रमुख धनोआ ने बजाई खतरे की घंटी, कहा- चीन और पाक से कैसे लड़ेंगे

Posted by - September 12, 2018 0
नई दिल्ली। वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने चीन और पाकिस्तान का उदाहरण देते हुए भारत की सुरक्षा…

मां को था ब्रेस्ट कैंसर, इसलिए स्टूडेंट ने बनाई ऐसी ब्रा जो पल भर में डिटेक्ट कर लेगी ये बीमारी

Posted by - October 27, 2018 0
मैक्सिको। क्या आपने कभी सोचा था कि एक ऐसी ब्रा भी हो सकती है जो यह बताएगी कि आपको ब्रेस्ट…

अभिनेता गिरीश कर्नाड ने गले में टांगी ‘मी टू अर्बन नक्सल’ लिखी तख़्ती, शिकायत दर्ज 

Posted by - September 8, 2018 0
बेंगलुरु। जाने-माने अभिनेता, नाटककार और ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित गिरीश कर्नाड एक कार्यक्रम के दौरान ‘मी टू अर्बन नक्सल’ (मैं भी…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *