रिपोर्ट : दुनिया में सबसे कम छुट्टी ले पाते हैं भारतीय, जानिए क्या है कारण

269 0

नई दिल्‍ली। एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि दुनियाभर में भारतीय लोगों के सामने सबसे अधिक अवकाश की कमी है। हाल ही में 19 देशों में हुए सर्वे के बाद जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि करीब 75 प्रतिशत भारतीय छुट्टी की कमी से जूझ रहे हैं जबकि 41 प्रतिशत लोगों को काम से फुर्सत नहीं मिल पाने के कारण पिछले 6 महीने में छुट्टी लेने का मौका नहीं मिला है।

किसने जारी की है रिपोर्ट ?

यह रिपोर्ट एक्सपीडिया ने ‘अवकाश कमी रिपोर्ट 2018’ शीर्षक से जारी की है। इस रिपोर्ट के अनुसार, भारत में सर्वाधिक 75 प्रतिशत लोग अवकाश की कमी का सामना कर रहे हैं। इस मामले में भारत के बाद 72 प्रतिशत के साथ दक्षिण कोरिया दूसरे स्‍थान पर और 69 प्रतिशत के साथ हांगकांग तीसरे स्थान पर है।

नहीं ले पाते पूरी छुट्टियां

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में कर्मचारी अपनी पूरी छुट्टियों का भी उपयोग नहीं कर पाते हैं। इस मामले में जापान, इटली, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बाद भारत का नंबर आता है। 35 प्रतिशत भारतीय ऐसे थे जो इस कारण छुट्टी नहीं ले पाए क्‍योंकि उनके ऑफिस में स्‍टाफ की कमी थी। अध्ययन में 18 प्रतिशत लोगों ने यह भी माना है कि जो लोग काम में सफल हैं, वे छुट्टियां लेने से परहेज करते हैं। उन्‍हें लगता है कि छुट्टी लेने से उनका काम प्रभावित होगा।

क्‍या कहा गया है रिपोर्ट में ?

एक्सपीडिया इंडिया के विपणन प्रमुख मनमीत अहलूवालिया का कहना है, ‘हालांकि भारत में अब नियोक्ताओं की ओर से अपने कर्मचारियों के अवकाश के मामले में उदारता दिखाई जा रही है, लेकिन इसके बावजूद कर्मचारी अब भी अपनी पूरी छुट्टियां नहीं ले पा रहे हैं। दरअसल, कर्मचारियों को महत्वपूर्ण निर्णयों से बाहर रह जाने या कम सर्मिपत समझ लिये जाने का भय लगा रहता है। कुछ कर्मचारी यह भी सोचते हैं कि अगर उन्‍होंने ज्‍यादा छुट्टियां लीं तो उनकी नौकरी के लिए खतरा पैदा हो सकता है।

काम का दबाव भी

अहलूवालिया ने कहा कि 64 प्रतिशत भारतीय इस कारण भी छुट्टियां नहीं ले पाते हैं क्‍योंकि छुट्टी से लौटने के बाद उनके ऊपर काम का भारी दबाव हो जाता है। अध्ययन में यह भी पता चला है कि 17 प्रतिशत भारतीयों ने पिछले एक साल से एक भी छुट्टी नहीं ली है। हालांकि, 55 प्रतिशत भारतीयों ने यह माना है कि छुट्टियों में कमी से उनकी उत्पादकता प्रभावित होती है।

किस देश में कितनी छुट्टियां ?

अगर दुनिया के अन्‍य देशों में छुट्टियों की बात करें तो ब्राजील में दुनिया में सबसे अधिक 41 पेड छुट्टियां दी जाती हैं। अमेरिका में पूरे साल में 10 सार्वजनिक छुट्टियां दी जाती हैं, जो सबसे कम है। भारत की बात करें तो यहां साल भर में 28 छुट्टियों का नियम है जिनमें पेड छुट्टियां 12 और सार्वजनिक अवकाश 16  हैं। इनके अलावा फ्रांस में 31 छुट्टियां, ऑस्ट्रेलिया में 38, पुर्तगाल में 35, स्पेन में 34, इटली में 33, जर्मनी, बेल्जियम और न्यूजीलैंड में 30-30, आयरलैंड में 29, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन में 28, नार्वे में 27, ग्रीस में 26, फिनलैंड, डेनमार्क और स्वीडन में 25-25, स्विटज़रलैंड व नीदरलैंड्स में 20-20, कनाडा में 19 जबकि जापान में साल भर में 10 छुट्टियां दी जाती हैं।

Related Post

नेपाल पहुंचे पीएम मोदी, जनकपुर के जानकी मंदिर में की पूजा-अर्चना

Posted by - May 11, 2018 0
नई दिल्ली। अपने दो दिवसीय नेपाल दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार (11 मई) को जनकपुर पहुंच गए। जनकपुर एयरपोर्ट पर…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *