WHO Report : शराब ने एक साल में पूरी दुनिया में ली 30 लाख लोगों की जान

89 0

नई दिल्‍ली। आपने शराब और इसके दुष्प्रभावों के बारे में सुना होगा। केंद्र और राज्य सरकार भी शराब के सेवन के दुष्प्रभावों के बारे में जागरूकता फैलाती हैं, लेकिन शराब के अत्यधिक सेवन के कारण हुई मौतों से संबंधित जो आंकड़े सामने आए हैं, उन्‍हें जानने के बाद आप चौंक जाएंगे। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने पिछले हफ्ते जारी रिपोर्ट में कहा है कि वर्ष 2016 में शराब के अत्यधिक सेवन के कारण 30 लाख से अधिक लोगों की मौत हो गई।

हर 20 में से 1 मौत शराब से 

WHO की ग्‍लोबल स्‍टेटस रिपोर्ट ऑन एल्‍कोहल और हेल्‍थ 2018 की रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया में शराब से होने वाली बीमारियों का बोझ लगातार बढ़ता जा रहा है। इस नई रिपोर्ट में, संयुक्त राष्ट्र स्वास्थ्य एजेंसी ने कहा कि लगभग 237 मिलियन पुरुषों और 4.6 मिलियन महिलाओं को शराब से संबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ा। WHO की रिपोर्ट के मुताबिक, दुनिया में होने वाली हर 20 में से 1 मौत शराब के कारण हुई। इनमें से अधिकतर मामले यूरोप और अमेरिका में देखे गए थे। कुल मिलाकर कहें तो वैश्विक बीमारी के बोझ का 5% से अधिक का कारण शराब से होने वाली बीमारियां हैं।

किन कारणों से होती है मौत ?

रिपोर्ट के अनुसार, शराब से होने वाली कुल मौतों में 28% चोट लगने के कारण होती हैं। इनमें सड़क हादसे, खुद को चोट पहुंचाना और हिंसा करना शामिल है। 21% शराब से होने वाली पेट व लिवर की समस्या, 19% शराब के बाद होने वाली दिल की बीमारियों और बाकी अन्य कैंसर, मेंटल डिसऑर्डर और दूसरी बीमारियों के कारण मारे गए। डॉक्‍टरों का कहना है कि एल्‍कोहल की वजह से लिवर सिरोसिस और कुछ कैंसर सहित 200 से अधिक बीमारियां होती हैं।

भारत में हर साल 2.6 लाख मौतें

WHO के मुताबिक, भारत में सालाना 2.6 लाख लोग शराब से होने वाली लीवर की बीमारियों और हादसों में मारे जाते हैं। शराब के चलते सर्वाधिक मौतें सड़क हादसों में होती हैं। वर्ष 2016 में करीब 1 लाख लोग शराब के प्रभाव में वाहन चलाते वक्त मारे गए, जबकि 30 हजार ऐसे रहे, जिन्हें शराब के कारण कैंसर हुआ था। वर्ष 2016 में करीब 1.4 लाख लोगों की मौत लीवर फेल होने के कारण हुई। इंडियास्पेंड ने वर्ष 2016 में राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) के आंकड़ों के आधार पर जारी अपनी एक रिपोर्ट में खुलासा किया है कि भारत में शराब पीने की वजह से प्रतिदिन 15 लोगों या हर 96 मिनट में एक व्यक्ति की मौत हो रही है।

यूरोप में सबसे ज्‍यादा शराब की खपत

रिपोर्ट के मुताबिक, दुनिया में 2.3 अरब लोग शराब पीते हैं। इनमें से आधी से ज्यादा आबादी दुनिया के सिर्फ तीन हिस्सों में मौजूद है। यूरोप में सबसे ज्यादा प्रति व्यक्ति शराब की खपत है। दुनिया में लगभग 27% से ज्यादा लोग शराब पीते हैं, जिनकी उम्र 15 से 19 साल के बीच है। इस वर्ग में सबसे ज्यादा 44% यूरोपीय, 38% अमेरिकी और 38% पश्चिमी पैसेफिक के युवा शामिल हैं।

Related Post

अमेरिकी इकोनॉमिस्‍ट रिचर्ड थेलर को अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार

Posted by - October 9, 2017 0
थेलर ने अपने काम के जरिए अर्थशास्त्र और मनोविज्ञान के बीच की खाई पाटने की कोशिश की स्टॉकहोम। अर्थशास्त्र को मानवीय…

यूपी : मेले की वजह से स्कूलों में घट गई बच्चों की संख्या, आखिर कैसे समझेंगे शिक्षा का महत्व

Posted by - November 28, 2018 0
बहराइच। यूपी के बहराइच जिले के नवाबगंज ब्लॉक के गांव भगवानपुर करिंगा में एक ऐसा मेला लगता है जहां दिन…

जस्टिस जोसेफ बोले, मामला सुलझाने के लिए बाहरी दखल की जरूरत नहीं

Posted by - January 13, 2018 0
न्‍यायमूर्ति बोले – मामला संस्था के भीतर का है, इसे हल करने के लिए संस्था ही जरूरी कदम उठाएगी कोच्चि। मामलों…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *