शोधकर्ताओं का दावा : सेहत के लिए फायदेमंद होती है बचपन की दोस्ती

122 0

वॉशिंगटन। कहते हैं कि दुनिया में दोस्‍ती से बढ़कर कोई दूसरा रिश्‍ता नहीं होता। कोई बात, जिसे हम किसी से नहीं कह सकते, उसे दोस्‍तों के साथ शेयर करते हैं। यहां तक कि दोस्‍ती से हमारी सेहत को भी बहुत फायदा होता है। हाल ही में हुए एक शोध में खुलासा हुआ है कि बचपन की दोस्‍ती आगे चलकर सेहत के लिए काफी फायदेमंद होती है।

क्‍या कहना है शोधकर्ताओं का ?

अमेरिका की टेक्सास टेक यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने यह अध्‍ययन किया है। ‘साइकॉलजिकल साइंस’ जर्नल में प्रकाशित शोध के मुताबिक, जो लड़के बचपन में अपने दोस्तों के साथ ज्यादा समय बिताते हैं, वे जब 30 की उम्र तक पहुंचते हैं तो तो उनका ब्लड प्रेशर और बॉडी मास इंडेक्स (BMI) कम रहता है। टेक्सास टेक यूनिवर्सिटी के जेनी कंडिफ ने कहा, ‘शोध के निष्कर्ष बताते हैं कि शुरुआती जीवन का वयस्क होने पर हमारे शारीरिक स्वास्थ्य पर प्रभाव पड़ता है। बचपन के हमारे दोस्त बड़े होने पर भी हमारी सेहत को फायदा पहुंचाते हैं।’

कैसे किया शोध ?

शोधकर्ताओं ने अपने अध्‍ययन के दौरान 267 लोगों से संबंधित डेटा की पड़ताल की। इस शोध में शामिल अभिभावकों से पूछा गया था कि एक हफ्ते में उनके बच्चे अपने दोस्तों के साथ कितना वक्त बिताते हैं। इसकी शुरुआत तब से की गई जब बच्चे 6 वर्ष के थे और 16 वर्ष के होने तक उनके ऊपर नजर रखी गई। इसके बाद शोधकर्ताओं ने अध्‍ययन में पाया गया कि जिन बच्चों ने अपने बचपन और किशोरावस्था में दोस्तों के साथ ज्यादा वक्त बिताया था, वे 32 वर्ष की उम्र में रक्तचाप और बीएमआई के मामले में बेहद सेहतमंद पाए गए।

दोस्‍तों के साथ बिताने दें ज्‍यादा समय

शोधकर्ताओं का कहना है कि अगर आपका बच्‍चा अपने बेस्‍ट फ्रेंड के साथ समय बिताना चाहता है तो उसे ऐसा करने से कतई ना रोकें। बच्चों को दोस्तों के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताने दीजिए, क्‍योंकि बचपन के ये पल दोबारा लौटकर नहीं आते हैं। शोधकर्ताओं का कहना है कि बचपन के दोस्‍त की जगह कोई दूसरा कभी नहीं ले सकता है। शोधकर्ताओं का कहना है कि दरअसल जीवन का शुरुआती दौर सीखने का दौर माना जाता है, जो भविष्‍य में हमारे जीवन पर बहुत असर डालता है। इसमें हमारी शुरुआती दोस्ती एक महत्वपूर्ण रोल निभाती है। बचपन की दोस्‍ती में कोई स्‍वार्थ नहीं होता और यह आपको जीवन के बड़े-बड़े पाठ भी सिखाती है, जो और किसी रिश्‍ते में संभव नहीं।

Related Post

जाकिर नाइक को लेकर मलेशिया की सरकार में बवाल, पीएम के खिलाफ हुए मंत्री

Posted by - July 13, 2018 0
कुआलालंपुर। इस्लामी विद्वान होने का दावा कर मुसलमानों का ब्रेनवॉश कर उन्हें आतंक की राह पर भेजने के आरोपी जाकिर…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *