प्रदूषण से 89 फीसदी लोग हो रहे बीमार, निजी संस्था के सर्वे में हुआ खुलासा

102 0

नई दिल्ली। दिल्ली समेत उत्तरी राज्यों में बढ़ते वायु प्रदूषण से 89 फीसदी लोगों ने बीमार होने की बात कही है। इतना ही नहीं, प्रदूषण से अपने नर्वस सिस्टम पर असर पड़ने की बात भी लोगों ने एक सर्वे में कही है।

17 शहरों में द क्लीन एयर कलेक्टिव के पब्लिक परसेप्शन सर्वे में लोगों ने वायु प्रदूषण से होने वाले असर पर खुलकर बात की। दिल्ली और एनसीआर के 8.3 फीसदी लोगों ने बताया कि प्रदूषण बढ़ने पर वो कुछ दिन के लिए पहाड़ चले जाते हैं। 50 फीसदी ने बताया कि इस इलाके में हवा अच्छी नहीं है। 24.5 फीसदी लोगों का कहना था कि दिल्ली-एनसीआर में हवा जहरीली है।

89 फीसदी लोगों ने सर्वे करने वाली संस्था को बताया कि प्रदूषण बढ़ने पर वो बीमार महसूस करते हैं। दिल्ली के 83.3 फीसदी लोगों ने बताया कि उनके फेफड़ों पर प्रदूषण का असर पड़ा है। वहीं, 7.3 फीसदी लोगों ने नर्वस सिस्टम पर असर पड़ने की बात कही।

44.7 फीसदी ने बताया कि उन्हें सांस लेने में दिक्कत होती है। 27.5 फीसदी लोगों ने कहा कि आउटडोर एक्टिविटी कम हो गई है। 26.9 फीसदी ने खुद को डिप्रेशन होने की बात कही। जबकि, 51.9 फीसदी ने वायु प्रदूषण से आंख, नाक और गले में तकलीफ बताई। 49.4 फीसदी ने बताया कि प्रदूषण से उनकी स्किन पर असर पड़ा है। वहीं, 31.3 फीसदी ने अस्थमा और 24.2 फीसदी ने छाती में दर्द होने की बात सर्वे में बताई।

57 फीसदी लोगों ने बताया कि जरूरी होने पर ही वे घर से बाहर निकलते हैं। जबकि, 64.7 फीसदी का कहना था कि घर से बाहर वे मास्क पहनते हैं। 31.7 फीसदी ने घर से बाहर न निकलने की जानकारी दी। 17 फीसदी ने कहा कि उन्होंने घर में एयर प्यूरिफायर लगाया है। जबकि, 28 फीसदी ने बताया कि एसी वाली कार में वे सफर करते हैं।
51.5 फीसदी प्रदूषण को और बढ़ने से रोकने के लिए शेयरिंग कार का इस्तेमाल कर रहे हैं। वहीं, 31.8 फीसदी ने बताया कि वे पब्लिक ट्रांसपोर्ट से जाते हैं। 14.2 फीसदी साइकल से चलने लगे हैं। जबकि, 70.3 फीसदी ने कहा कि कम दूरी के लिए वे पैदल चलते हैं। 56.9 फीसदी ने घर में बिजली का कम इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। 24.7 फीसदी लोगों ने सर्वे में बताया कि वे कूड़ा नहीं जला रहे और ऊर्जा के स्वच्छ स्रोत की ओर शिफ्ट कर रहे हैं। 27.2 फीसदी ने पौधे लगाने की बात कही, तो 10 फीसदी ने बताया कि वे प्रदूषण के प्रति लोगों में जागरूकता बढ़ाने का काम कर रहे हैं।

Related Post

खरीदने चाहते हैं Redmi Note5 Pro, तो कल ही होगी फ़्लैश सेल

Posted by - April 12, 2018 0
मुंबई। Xiaomi के स्मार्टफोन Redmi Note5 Pro की सेल एक दिन बाद (18 अप्रैल) शुरू होगी। कंपनी अपने इस लोकप्रिय हैंडसेट के लिए Mi.com पर एक प्री-ऑर्डर…

उन्नाव रेप केस : हाईकोर्ट का आदेश – आरोपी विधायक को डिटेन नहीं, गिरफ्तार करें

Posted by - April 13, 2018 0
इलाहाबाद। उन्नाव रेप केस मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कड़ा रुख अपनात हुए आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को…

सरकार को बेनामी संपत्ति की जानकारी दें और पाएं 1 करोड़ का इनाम

Posted by - June 1, 2018 0
मोदी सरकार ने बेनामी संपत्ति पर जोरदार वार करने के लिए शुरू की  ‘बेनामी ट्रांसफर सूचना रिवार्ड योजना’ नई दिल्‍ली।…

SC का बड़ा फैसला : दहेज उत्पीड़न में अब तुरंत हो सकेगी पति की गिरफ्तारी

Posted by - September 14, 2018 0
नई दिल्‍ली। दहेज उत्पीड़न के मामलों में सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार (14 सितंबर) को एक बड़ा फैसला सुनाया है। सर्वोच्च…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *