विटामिन D और फिश ऑयल खाने से कम नहीं होता है कैंसर का खतरा : रिसर्च

91 0

बॉस्टन। पैरों में हर समय दर्द बने रहना और दर्द ठीक करने के लिए आप दवा का सहारा ले रहे तो यह सही नहीं। ऐसी प्रॉब्लम अगर आप झेल रहे हैं तो आपके लिए ये गंभीर संकेत है। ये आपके शरीर में विटामिन D की कमी है। कई लोग विटामिन D और फिश ऑयल इसलिए भी खाते हैं क्योंकि वो सोचते हैं कि इससे कैंसर होने की संभावना कम हो जाती है।

हाल ही में आई एक रिसर्च ने ये बात गलत साबित कर दी है। इस स्टडी में बताया गया कि फिश ऑयल या विटामिन D से दिल की बीमारी और कैंसर का खतरा कम नहीं होता है। इस स्टडी में 50 साल से ज्यादा उम्र के मर्दों के अलावा 55 साल की महिलाओं को शामिल किया गया। ये लोग रोजाना विटामिन D की इंटरनेशल यूनिट और 1 ग्राम ओमेगा-3 फैटी एसिड लेते थे। इसके बावजूद इनमें कैंसर न होने की संभावना नहीं दिखाई दी। इसके अलावा फिश ऑयल का दिल की बीमारी में भी कोई फायदा नजर नहीं आया।

अगर आप इसे खरीदकर ये सोच रहे हैं कि आप इन बीमारियों से बचे रहेंगे तो अपनी गलती को सुधार लीजिए। इस स्टडी के ऑथर जॉन मैंसन ने कहा कि वो इसके बारे में और भी कई स्टडी करेंगे कि कैसे विटामिन डी और मछली के तेल ऑटोम्यून्यून विकार, मधुमेह, संज्ञान, और अन्य स्वास्थ्य परिस्थितियों को प्रभावित करते हैं।

Related Post

गरीब बच्चों को फ्री में पढ़ा रही हैं ये बैंक मैनेजर, हर रोज बच्चों को खुद खिलाती हैं खाना

Posted by - September 18, 2018 0
नई दिल्ली। इस दुनिया में ऐसे बहुत कम लोग होते हैं जो दूसरों के बारे में सोचते हैं। आज हम…

कैसे मिलेंगे देश को इंजीनियर्स, 23 IIT में जरूरत के मुताबिक टीचर ही नहीं !

Posted by - March 31, 2018 0
बेंगलुरु। देश के प्रीमियर इंजीनियरिंग संस्थान इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी यानी आईआईटी में टीचरों की 34 फीसदी कमी है। सिर्फ…

बोइंग, HAL और महिंद्रा डिफेंस मिलकर भारत में बनाएंगे सुपर हॉर्नेट फाइटर प्लेन

Posted by - April 12, 2018 0
मेक इन इंडिया के तहत होगा इन लड़ाकू विमानों का निर्माण, तीनों कंपनियों ने किया समझौता चेन्‍नै। दुनिया के ताकतवर लड़ाकू…

मुख्य सचिव से मारपीट : केजरीवाल-सिसोदिया को कोर्ट में पेश होने का आदेश

Posted by - September 18, 2018 0
नई दिल्‍ली। दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ मारपीट के मामले में दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *