क्या आपको भी नाखून चबाने की आदत है? व्यक्तित्व के बारे में भी बहुत कुछ बताती है ये आदत

100 0

लंदन। आपके आस-पास ऐसे कई लोग होंगे जिन्हें मुंह से नाखून चबाने की बहुत बुरी आदत होती है। अगर हम इसे सामाजिक दृष्टि से देखें तो इसे काफी बुरी आदत समझा जाता है। कई ऐसे लोग होते हैं जिनकी एक अंगुली हर समय मुंह में ही होती है और वह दांतों से नाखून काट रहे होते हैं। आपको जाकर हैरानी होगी कि नाखून चबाने की आदत आपके व्यक्तित्व के बारे में भी बहुत कुछ बताती है।

ब्रिटेन में हुई एक स्टडी में ये बात सामने आई है कि अगर आप भी नाखून चबाते हैं तो इसके पीछे का कारण आपका परफेक्शन में विश्वास करना हो सकता है। जर्नल ऑफ बिहेवियर थेरेपी एंड एक्पेरीमेंटल सायकायट्री में छपी एक स्टडी के अनुसार कई लोगों को ऐसा लगता है कि जब इंसान नाखून चबाने लगता है तो इसका मतलब वो नर्वस है, लेकिन ये बात कम लोगों को पता है कि जो लोग नाखून चबाते हैं उनके परफेक्शनिस्ट होने की संभावनाएं होती हैं।

इस रिसर्च में 48 लोगों के एक ग्रुप पर स्टडी की गई जिनमें आधे से ज्यादा लोगों को नाखून चबाने की गंभीर आदत थी। सभी प्रतिभागियों के लिए तनाव और बोरडम जैसी विशेष भावनाओं को बढ़ाने वाली कुछ परिस्थितियां बनाई गईं और इन परिस्थितियों में उनके व्यवहार में होने वाले बदलाव को नोटिस किया गया।

इस स्टडी से ये बात सामने आई कि जो लोग अपने काम में परफेक्शन लाना पसंद करते हैं, वो इन परिस्थितियों के दौरान अधिक परेशान महसूस कर रहे थे और नाखून चबाना इसी परेशानी का कारण था।

Related Post

मोटे बच्चों को लो फैट डाइट देने से बढ़ जाएंगे कैंसर में ज्यादा समय तक जिंदा रहने के चांस : स्टडी

Posted by - November 2, 2018 0
कैलिफोर्निया। अगर मोटे बच्चों को लो फैट डाइट दी जाए तो उनमें कैंसर में ज्यादा समय तक जिंदा रहने के…

कैंब्रिज एनालिटिका के दफ्तर में लगा था कांग्रेस का पोस्टर, स्मृति का निशाना

Posted by - March 29, 2018 0
नई दिल्ली। ब्रिटिश कंपनी कैंब्रिज एनालिटिका की ओर से फेसबुक यूजर्स का डाटा चुराए जाने के मामले में कांग्रेस अब…

आधार लिंकिंग को चुनौती देने पर ममता सरकार को सुप्रीम कोर्ट की कड़ी फटकार

Posted by - October 30, 2017 0
 कोर्ट ने कहा – ‘संसद से पारित कानून को राज्य कैसे दे सकता है चुनौती ? नई दिल्ली : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *