वायु प्रदूषण से बढ़ा बीमारियों का खतरा, ये घरेलू उपाय आपको रखेंगे सुरक्षित

85 0

नई दिल्‍ली। इन दिनों दिल्‍ली-एनसीआर और यूपी समेत देश के विभिन्‍न राज्‍यों में वायु प्रदूषण या स्‍मॉग का स्‍तर खतरनाक हो चला है। दो दिन पहले जारी आंकड़ों में देश के सबसे प्रदूषित शहरों में 10 उत्‍तर प्रदेश के हैं। हवा में घुले हानिकारक तत्व हमारी सांसों के साथ शरीर के अंदर जा रहे हैं और हमें बीमार कर रहे हैं। हालांकि स्मॉग को रोकना भले मुश्किल हो, लेकिन इससे बचा जरूर जा सकता है।

स्मॉग कैसे पहुंचा रहा नुकसान ?

स्‍मॉग की वजह से ज़हरीली गैसें और नैनो पार्टिकल्स हवा में फैल जाते हैं, जो सांस के जरिये हमारे खून तक पहुंच जाते हैं। इनसे कई तरह की समस्‍याएं शुरू हो जाती हैं। शुरुआती दौर में तो इससे सांस लेने में तकलीफ होना, आंखें लाल होना और खुजली के साथ जलन जैसी परेशानियां नजर आती हैं, लेकिन इनकी वजह से हार्ट डिज़ीज, स्ट्रोक और अस्थमा का खतरा पैदा हो जाता है। इनसे बचने के लिए कुछ घरेलू उपाय भी हैं, जिन्‍हें आप आराम से आजमा सकते हैं। आइए जानते हैं क्‍या हैं ये उपाय –

  • गुड़ और शहद में रोग प्रतिरोधक क्षमता होती है। इसे रोज अपनी खाने में शामिल करें। रात को सोते समय गुड़ खाएं लेकिन पानी न पीएं, सिर्फ कुल्ला कर मुंह साफ कर लें। सुबह तक सारा धूल-कण बाहर आ जाएगा।
  • लहसुन एक प्राकृतिक एंटीबॉयटिक है इसलिए इसे खाने में ही नहीं बल्कि कच्चा भी खाना चाहिए। लहसुन की कुछ कलियां 1 चम्मच मक्खन में पकाकर खा लें, लेकिन इसे खाने के आधे घंटे पहले और बाद में कुछ नहीं खाएं।
  • 1 चम्मच शहद में अदरक का रस मिलाकर हल्का गुनगुना कर दिन में 2 से 3 बार पीएं। एलर्जी, जुकाम और साइनस में यह उपाय बहुत कारगर माना जाता है।
  • सीने में कफ की समस्या होने पर काली मिर्च में 1 चम्मच शहद मिलाकर खाएं। ये कफ को बाहर करने का काम करता है। साथ ही गर्म पानी में नींबू और शहद मिलाकर भी पीते रहें।
  • अजवाइन की पत्तियां खून को शुद्ध करती हैं, इसलिए इन्हें किसी भी रूप में खाएं, इससे फायदा ही होगा। इन पत्तियों को आप चटनी, सलाद या सब्जी में डाल कर खा सकते हैं। ये धूल कण के नैनौ पार्टिकल्स को ब्लड से साफ करने का काम करती हैं।

ये सावधानियां भी जरूरी

घर से बाहर निकलते समय हमेशा डबल फिल्टर यानी नैनो पार्टिकल्स रोकने वाले मास्क का यूज करें। साथ ही चश्मा लगाएं और अपने बालों को ढक कर रखें। गर्भवती महिलाओं और वृद्ध लोगों के लिए घर में एयर प्यूरिफायर मशीन जरूर लगवाएं। एंटी पॉल्यूशन वाले पौधों को घर में लगाना भी प्रदूषण से बचने का एक तरीका है। ये पौधे नेचुरल प्यूरिफायर होते हैं। कहीं बाहर से घर आने के बाद मुंह, हाथ और पैर साफ़ पानी से धोने के बाद ही कुछ खाएं-पीएं।

Related Post

मौत से जंग में हार गए आईपीएस सुरेंद्र दास, 5 दिन पहले खाया था जहर

Posted by - September 9, 2018 0
कानपुर। भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी और कानपुर के पुलिस अधीक्षक (पूर्वी) के पद पर तैनात रहे सुरेन्द्र कुमार दास…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *