इस अनोखी रिसर्च को जानने के बाद शादी से इनकार नहीं कर पाएंगे मर्द

76 0

टोक्‍यो। शादी-शुदा जीवन की समस्‍याओं को जानने के बाद अक्‍सर अविवाहित युवा शादी न करने का मन बना लेते हैं। वे सोचते हैं, कौन बैठे-बिठाए मुसीबत मोल ले, लेकिन हाल ही में हुए एक अध्‍ययन में वैवाहिक जीवन के इतने फायदे बताए हैं कि इन्‍हें जानने के बाद कोई भी शादी करने से मना नहीं कर पाएगा।

किसने किया अध्‍ययन ?

जापान के योकोहामा सिटी विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने यह अध्‍ययन किया है। वैज्ञानिकों की रिसर्च में ऐसी जानकारी सामने आई है जिसे सुनने के बाद आप तुरंत शादी के लिए तैयार हो जाएंगे। बता दें कि यह रिसर्च अध्ययन के लिए यूरोपीय संघ में पेश की गई है।

कैसे किया अध्‍ययन ?

शोधकर्ताओं ने इस अध्ययन में टाइप-2 मधुमेह के साथ 270 लोगों को शामिल किया। इनमें 180 शादीशुदा और 90 अविवाहित शामिल थे जिनकी औसत उम्र 65 साल थी। अध्‍ययन के दौरान प्रतिभागियों के शरीर के द्रव्यमान सूचकांक की गणना और शरीर में वसा की मात्रा को मापा गया। रिसर्च में सामने आया कि अविवाहितों के समूह की तुलना में शादीशुदा लोगों के समूह में अधिक वजन बढ़ने की संभावना 50% कम थी। शोधकर्ताओं का मानना है कि शादीशुदा लोग अधिक स्वस्थ खाने और अपना ख्याल रखने पर अधिक ध्यान देना शुरू कर देते हैं।

क्‍या आया अध्‍ययन में सामने 

रिसर्च में सामने आया है कि अविवाहित लोगों की तुलना में वैवाहिक जीवन जी रहे लोगों की बॉडी शेप सही रहती है। ‘डेली मेल’ की खबर के अनुसार, इस अध्ययन में यह भी पाया गया कि शादीशुदा पुरुषों में मधुमेह, उच्च रक्तचाप , मोटापा और मेटाबोलिक सिंड्रोम से पीड़ित होने की संभावना भी कम रहती है। हालांकि रिसर्च की ये बात महिलाओं पर लागू नहीं होती है। योकोहामा सिटी विश्वविद्यालय में इस अध्ययन के लेखक योशिनोबु कोंडो ने कहा, ‘हमारे निष्कर्ष से पता चलता है कि विवाहित पुरुषों में अधिक वजन होने का खतरा 50 % कम और मेटाबोलिक सिंड्रोम में 58% तक की कमी आ जाती है।

Related Post

खतरनाक प्रदूषण से बचने के लिए सही मास्क खरीदना है जरूरी, जानें कौन सा मास्क है सही

Posted by - October 31, 2018 0
नई दिल्ली। अक्सर लोग प्रदूषण और डस्ट से बचने के लिए मुंह पर स्कार्फ या रूमाल बांधते हैं। इसके पीछे…

पीएम मोदी ने जनता को समर्पित की दुनिया की सबसे बड़ी हेल्थ स्कीम ‘आयुष्मान भारत’

Posted by - September 23, 2018 0
रांची। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड की राजधानी रांची से अपनी महत्‍वाकांक्षी योजना ‘प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना’ (आयुष्मान भारत) का…

जम्‍मू-कश्‍मीर को विशेष दर्जा देने वाले आर्टिकल 35-ए पर सुनवाई टली

Posted by - October 30, 2017 0
सर्वोच्‍च न्‍यायालय की तीन जजों की बेंच ने केंद्र सरकार को दी तीन महीने की मोहलत नई दिल्ली। जम्‍मू-कश्‍मीर को विशेष…

यूपी विधानसभा में फिर यूपीकोका बिल पेश, फांसी तक का है प्रावधान

Posted by - March 27, 2018 0
लखनऊ। योगी आदित्यनाथ सरकार ने यूपी विधानसभा में दोबारा यूपी कंट्रोल ऑफ ऑर्गेनाइज्ड क्राइम एक्ट यानी यूपीकोका बिल पेश किया…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *