पुरुषों के मुकाबले महिला विधायक और सांसद चुनने के होते हैं ये फायदे

47 0

नई दिल्ली। आधी आबादी यानी महिलाएं। भारत में कुल जनसंख्या का 48.5 फीसदी महिलाएं हैं, लेकिन देश के कुल 4118 विधायकों में महज 9 फीसदी सीटों पर ही वो काबिज हैं। लोकसभा की 543 सीटों में से 61 महिला सांसद हैं जबकि, एक सर्वे के मुताबिक पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को विधायक और सांसद चुने जाने से लोगों को काफी फायदे मिलते हैं।

संयुक्त राष्ट्र की यूनिवर्सिटी वर्ल्ड इंस्टीट्यूट फॉर डेवलपमेंट इकोनॉमिक्स रिसर्च के सर्वे के मुताबिक महिला जन प्रतिनिधियों पर कम आपराधिक मामले होते हैं। वे कम भ्रष्ट होती हैं और काम के मामले में पुरुषों से ज्यादा सफल रहती हैं। सर्वे करने वालों ने साल 1992 से 2012 के बीच 4265 विधानसभा क्षेत्रों के डेटा के आधार पर ये दावा किया है। ये रिपोर्ट महिला जन प्रतिनिधियों के बारे में तमाम और रोचक बातें बताती है।

-महिला जन प्रतिनिधि जिन क्षेत्रों से चुनी जाती हैं, वहां विकास दर औसतन 25 फीसदी के आसपास देखी गई है।
-पुरुष जन प्रतिनिधियों में 32 फीसदी पर आपराधिक मामले पाए गए। जबकि, महिला जन प्रतिनिधियों में महज 10 फीसदी पर ही आपराधिक मामले थे।
-जिन क्षेत्रों से महिला जन प्रतिनिधि चुनी गईं, वहां पुरुषों के मुकाबले सड़क न बनने के मामले 22 फीसदी कम देखे गए।
-ये भी पाया गया कि पुरुष जन प्रतिनिधियों के मुकाबले महिला जन प्रतिनिधि 10 फीसदी कम की दर से सालाना संपत्ति जोड़ती हैं। यानी महिला जन प्रतिनिधियों के इलाके में कम भ्रष्टाचार होता है।

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *