उम्र के बीच पड़ाव में हैं, तो तनाव दे सकता है आपको ये दिक्कत

57 0

लंदन। न्यूरोलॉजी नाम के जर्नल में छपा है कि अगर आप उम्र के बीच पड़ाव में हैं। यानी 40 से 50 साल के और तनाव रहता है, तो आपको दिमाग संबंधी एक बड़ी मुश्किल हो सकती है।

जर्नल में छपी रिसर्च के अनुसार इस उम्र के लोगों में तनाव से दिमाग सिकुड़ सकता है और इससे मेमोरी लॉस यानी भूलने की बीमारी हो सकती है। रिसर्च करने वालों का कहना है कि तनाव से दिमाग में कॉर्टिसॉल बढ़ जाता है और इसी से भूलने की बीमारी शुरू हो जाती है। बाद में ये डिमेंशिया में बदल जाती है।

हारवर्ड मेडिकल स्कूल की ये रिसर्च बताती है कि जिनका दिमाग तनाव की वजह से सिकुड़ जाता है, उनमें सोचने की क्षमता भी कम हो जाती है। ये रिसर्च 2231 लोगों पर की गई। इनकी औसत उम्र 49 साल थी और सभी को डिमेंशिया नाम की दिमागी बीमारी नहीं थी। रिसर्च में कहा गया है कि तनाव को कम करने के लिए व्यायाम करना चाहिए। साथ ही आराम करने की भी जरूरत है। इसके अलावा अगर लगता है कि भूलने की बीमारी हो रही है, तो तुरंत न्यूरोलॉजिस्ट से मिलकर कॉर्टिसॉल का स्तर भी चेक कराने की जरूरत है।

Related Post

खुफिया रिपोर्ट : कश्मीर में ISIS समर्थक महिलाओं के समूह ने दी दस्तक

Posted by - June 23, 2018 0
‘दौलत-उल-इस्लाम’ संगठन की महिलाएं घाटी के युवक-युवतियों का कर रहीं ब्रेन वॉश श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में अलगवावादियों, पत्थरबाजों और आतंकवादियों के…

पाक फायरिंग में अपने जन्मदिन पर ही शहीद हुआ बीएसएफ जवान

Posted by - January 3, 2018 0
जम्मू। जम्‍मू-कश्‍मीर के सांबा सेक्‍टर में पाकिस्‍तान रेंजर्स के जवानों द्वारा की गई गोलीबारी में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) का…

मुख्यमंत्री के शहर में नवजातों को दी जा रही जानलेवा दवा

Posted by - December 8, 2017 0
गोरखपुर के सरकारी अस्पताल में की जा रही सप्‍लाई, नगर विधायक डॉ. आरएमडी ने पकड़ी लापरवाही गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ…

शपथग्रहण में ‘गॉड’ की जगह ‘डॉग’ बोल गए मुख्यमंत्री के भाई

Posted by - December 28, 2017 0
जम्मू-कश्मीर में महबूबा सरकार में मंत्रिमंडल विस्‍तार के समय दो नेताओं को दिलाई जा रही थी शपथ श्रीनगर। किसी संवैधानिक…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *