रोज खाइए एक केला, जो आपको पौष्टिकता संग देगा कई और फायदे

25 0

नई दिल्ली। कहावत है कि एक सेब रोज खाने से डॉक्टर के पास नहीं जाना पड़ता। एक और फल ऐसा है, जिसे रोज खाने से स्वास्थ्य ठीक रहता है और तमाम बीमारियां भी दूर रहती हैं। ये फल है केला। जी हां। रोज एक केला आपके स्वास्थ्य को तो ठीक रखता ही है, साथ ही ये आपको पौष्टिकता भी देता है।

केले में मैग्नीशियम, विटामिन, फाइबर, पोटेशियम, आयरन और कैल्शियम होते हैं। बच्चा अगर रोज एक केला खाता है, तो उसे एनर्जी की कमी नहीं होती। इसके अलावा केले में मिलने वाला पैक्टिन नामक तत्व पाचन तंत्र को भी मजबूत बनाता है। पोटेशियम से हड्डियां मजबूत होती हैं और दिमाग तेज बनता है। केले में मौजूद आयरन एनिमिया के रोगी के लिए अच्छा होता है।

सामान्य व्यक्ति और बच्चों को हर रोज एक केला खाना चाहिए। वहीं, किसी खिलाड़ी के लिए रोज 2 से 3 केले खाने जरूरी हैं। जिम जाते हैं, तो वहां जाने से पहले एक केला खाइए। हर 100 ग्राम केले में 90 कैलोरी ऊर्जा होती है। इसमें फैट काफी कम होता है और कॉलेस्ट्रॉल भी नहीं होता। एक केले में 358 मिलीग्राम पोटेशियम और 23 ग्राम कार्बोहाइड्रेट होता है।

केला शरीर के लिए जरूरी चीन की मात्रा को पूरा करता है। साथ ही फाइबर की वजह से ये वजन भी घटाता है। आंखों के लिए इसका विटामिन-ए फायदा पहुंचाता है। दिल के लिए भी केला लाभदायक होता है। केला खाने से त्वचा का सूखापन खत्म होता है। प्रेग्नेंसी में ये कब्ज को दूर करता है और गर्भ में शिशु को पोषण देता है। माइग्रेन से पीड़ित लोगों को केला नहीं खाना चाहिए। इसे खाने से दांतों में कैविटी भी बनने की आशंका होती है। केले का आयरन कुछ लोगों में कब्ज भी पैदा करता है और विटामिन-बी6 से ऐसे लोगों को नुकसान होता है, जो व्यायाम नहीं करते हैं।

Related Post

कर्नाटक लोकायुक्त को ऑफिस में घुसकर चाकू से गोदा, हमलावर गिरफ्तार

Posted by - March 7, 2018 0
लोकायुक्‍त विश्‍वनाथ शेट्टी अस्‍पताल में भर्ती, शिकायतकर्ता तेजस शर्मा ने किया हमला बेंगलुरु। कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में एक व्यक्ति…

आईफोन रिपेयर न करने पर ऑस्ट्रेलिया में एपल पर 45 करोड़ जुर्माना

Posted by - June 19, 2018 0
कैनबरा। ऑस्ट्रेलिया की संघीय अदालत ने एपल पर उपभोक्ताओं को भ्रमित करने के लिए मंगलवार (19 जून) को 6.6 मिलियन डॉलर…

महाराष्ट्र के इस गांव में है अनोखा स्कूल, जहां सिर्फ बुजुर्ग महिलाएं ही पढ़ने आती हैं

Posted by - September 24, 2018 0
मुंबई। कहते हैं, पढ़ाई-लिखाई की कोई उम्र नहीं होती है। अगर कुछ सीखने की लगन हो तो उम्र मायने नहीं…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *