अब कम ऊर्जा खपत वाले App बनाने में मदद करेगा Artificial Intelligence

48 0

वॉशिंगटन।अमेरिका केवैज्ञानिकों ने कृत्रिम मेधा (Artificial Intelligence AI) की मदद से एक ऐसा उपकरण तैयार किया है, जो डेवलपर्स को स्मार्टफोन के लिए कम बैटरी खपत वाले ऐप बनाने में सहायक होगा। इन वैज्ञानिकों में भारतीय मूल का एक वैज्ञानिक भी शामिल है। 

क्‍या है इसकी खासियत ?

अमेरिका के प्रूड्यू विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने जो उपकरण तैयार किया है, उसका नाम है ‘डिफप्रोफ’। यह उपकरण डेवलपर्स के लिए तत्काल यह निर्णय लेगा कि क्या किसी ऐप की ऊर्जा दक्षता में सुधार की गुंजाइश है ? विश्वविद्यालय के पूर्व शोधार्थी अभिलाष जिंदल बताते हैं कि इस तकनीक के जरिये पूरे स्मार्टफोन में बदलाव लाने के लिए डेवलपर्स को अपने ऐप को ऊर्जा के प्रति और दक्ष बनाना होगा।

कैसे करेगा काम ?

वैज्ञानिकों का कहना है कि आमतौर पर कोई कोड दो अलग-अलग ऐप पर अलग-अलग तरीके से चलता है, भले ही डेवलपर्स एक जैसा काम कर रहे हों। ‘डिफप्रोफ’ इसी अंतर को कॉल ट्रीज में पकड़ता है, जिससे यह पता चल जाता है कि एक ऐप का मैसेजिंग फीचर दूसरे ऐप के मुकाबले ज्यादा ऊर्जा क्यों लेता है। इसके बाद यह उपकरण बताता है कि बैटरी की कम खपत के लिए ऐप को दोबारा कैसे बनाया जाए।

Related Post

मेक्सिको जा रहीं मार्क जुकरबर्ग की बहन से विमान में छेड़छाड़

Posted by - December 2, 2017 0
मेक्सिको :  फेसबुक के संस्थापक मार्क जकरबर्ग की बहन रैंडी जकरबर्ग से अलास्का एयरलाइंस की फ्लाइट में कथित छेड़छाड़ का…

तैयब मेहता की चर्चित पेंटिंग ‘काली’ रिकॉर्ड 26.4 करोड़ में हुई नीलाम

Posted by - June 16, 2018 0
नई दिल्‍ली। भारत के जाने-माने पेंटर तैयब मेहता की 1989 की चर्चित पेंटिंग ‘काली’को एक नीलामी में रिकॉर्ड 26.4 करोड़ रुपये…

पंचकूला हिंसा में एसआईटी ने हनीप्रीत के खिलाफ दाखिल की चार्जशीट

Posted by - November 28, 2017 0
जांच के बाद दाखिल लगभग 1200 पेज के आरोपपत्र में पुलिस ने 67 चश्मदीद गवाह बनाए पंचकूला। हनीप्रीत सहित 15 आरोपियों…

वैज्ञानिकों ने खोजी डायनासोर की नई प्रजाति, 11 करोड़ साल पुराना जीवाश्म मिला

Posted by - November 14, 2018 0
ब्यूनस आयर्स। स्पेन और अर्जेंटीना के जीवाश्म वैज्ञानिकों के करीब 11 करोड़ वर्ष पहले देश के मध्य में निवास करने…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *