किसी ड्रग्स से कम नहीं होते हैं जंक फूड, छोड़ने के बाद 1 सप्ताह तक नजर आते हैं ये लक्षण

102 0

टेक्सास। आजकल की खराब दिनचर्या के चलते लोगों का जंक फूड से बचना मुश्किल हो गया है। घर पर खाना बनाने का समय नहीं होता और भूख लगने पर लोग बाहर का खाना खा ही लेते हैं। ये न सिर्फ आपका वजन बढ़ाता है बल्कि आपकी सेहत के लिए भी काफी हानिकारक होता है। अगर आप जंक फूड को अपनी डाइट से हटा देंगे तो करीब 1 सप्ताह तक इसके लक्षण किसी ड्रग्स की लत की तरह नजर आएंगे। ये बात एक स्टडी में सामने आई है।

किसी भी प्रकार के जंक फूड में हानिकारक कार्बोहाइड्रेट्स, कोलेस्ट्रॉल और फैट की मात्रा बहुत ज्यादा होती है, जो आपके शरीर को नुकसान पहुंचा सकती है। अमेरिका के मिशिगन यूनिवर्सिटी के रिसर्चर्स का कहना है कि जिन लोगों ने चिप्स, पिज्जा को खाना बंद किया, उन्हें शारीरिक और मनोवैज्ञानिक लक्षणों जैसे- सिरदर्द, मूड स्विंग, क्रेविंग से गुजरना पड़ा। रिसर्चर्स का कहना है कि ऐसा पहली बार स्टडी में सामने आया है कि किसी फूड को छोड़ने के बाद ड्रग्स जैसे लक्षण देखे।

स्टडी में 231 लोगों को शामिल किया गया था। इन लोगों की उम्र 19 से 68 वर्ष के बीच थी। रिसर्चर्स ने इन्हें कहा कि जंक फूड छोड़ने के बाद क्या बदलाव नजर आए, वो बताएं। 98 प्रतिशत प्रतिभागियों ने कहा कि उन्‍होंने इस अवधि के दौरान उदासी, थकान, गंभीरता और चिड़चिड़ाहट की भावनाओं का अनुभव किया।

Related Post

छेड़छाड़ मामले में जेएनयू के प्रोफेसर अतुल जौहरी गिरफ्तार, मिली जमानत

Posted by - March 20, 2018 0
9 छात्राओं ने लगाया था छेड़खानी का आरोप, पूछताछ के बाद पुलिस ने किया था गिरफ्तार नई दिल्ली। दिल्ली की एक…

मणिपुर की लोकटक झील में मिले ऐसे जीवाणु, जो बढ़ाएंगे फसलों की पैदावार

Posted by - July 16, 2018 0
नई दिल्‍ली। मणिपुर की प्रसिद्ध लोकटक झील दुनियाभर में अपने तैरते हुए द्वीपों के लिए जानी जाती है। यह उत्‍तर…

दुनिया से छंटा तीसरे विश्व युद्ध का खतरा, किम परमाणु कार्यक्रम रोकने को तैयार

Posted by - June 12, 2018 0
डोनाल्‍ड ट्रंप बोले – दुनिया की सबसे बड़ी और खतरनाक समस्या का निकल गया समाधान   सिंगापुर। कभी कट्टर दुश्मनों…

चीफ जस्टिस को दी चुनौती, बतौर जस्टिस इन्होंने उठाई थी आम लोगों की आवाज

Posted by - June 22, 2018 0
नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के काम-काज के तरीके को चुनौती देने वाली आवाज अब सुप्रीम…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *