IIT के वैज्ञानिकों ने बनाई तकनीक, अब ओस और कोहरे से निकलेगा पानी

85 0

मंडी। पानी की बढ़ती मांग को देखते हुए दुनियाभर में ऐसी टेक्‍नोलॉजी विकसित करने की दिशा में काम किए जा रहे हैं, जिससे प्राकृतिक तरीके से ओस और कोहरे से पानी निकाला जा सके। IIT मंडी की एक रिसर्च टीम ने ऐसी टेक्‍नोलॉजी विकसित की है, जिसकी मदद से ओस और कोहरे से पानी बनाया जा सकता है।

IIT मंडी, हिमाचल प्रदेश के एसोसिएट प्रोफेसर वेंकट कृष्णन ने कहा, दुनिया के ड्राई और सेमीड्राई जगहों में कई ऐसे पौधे हैं, जिनकी पत्तियां ओस एवं कोहरे से पानी निकाल सकती हैं। रिसर्चर्स ने एक सजावटी पौधे ड्रैगन लिली की पत्तियों के कठिन स्ट्रक्चर की स्टडी की। उन्होंने कहा, बूंदों के लैपलैस प्रेशर और फाइबर-समान हैंगिंग फेनोमेनन की वजह से ग्रास के लिए कोहरा जमा करना आसान हो जाता है। ग्रास के संरचनात्मक लक्षणों की समझ विकसित होने से वाटर हार्वेस्टिंग में सक्षम मेटीरियल का प्रारूप तैयार करने का नया नजरिया मिलता है।

स्टडी में उन्होंने पाया कि इस स्ट्रक्चर वाले नमूनों पर कोहरे से पानी निकालने की क्षमता 230 परसेंट तक बढ़ गई। बाद में टीम ने इस पैटर्न की नकल एक पॉलीमर सामग्री पर उतारी। इस तकनीक के बेहतर उपयोग से पेयजल प्राप्त कर पेयजल से वंचित देश की 12 प्रतिशत आबादी की प्यास बुझाई जा सकेगी। यह अध्ययन एसीएस सस्टेनेबल केमिस्ट्री एंड इंजीनियरिंग पत्रिका में प्रकाशित हुआ है।

Related Post

मेघालय में उग्रवादी हमले में एनसीपी प्रत्याशी जोनाथन संगमा की मौत

Posted by - February 19, 2018 0
हमले में जोनाथन के सुरक्षाकर्मी और दो एनसीपी कार्यकर्ताओं की भी मौत 2013 के विधानसभा चुनावों में भी मिली थी…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *