इस वजह से हफ्ते में तीन दिन ही पीनी चाहिए शराब

86 0

मिसौरी। हम सुनते आए हैं कि हर रोज एक पेग शराब पीना स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है, लेकिन एक नई स्टडी का नतीजा बताता है कि ऐसा करना ठीक नहीं है। ये स्टडी कहती है कि हफ्ते में बस तीन दिन ही शराब पीनी चाहिए।

अमेरिका में मिसौरी के वाशिंगटन यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ मेडिसिन ने ये स्टडी की है। स्टडी के मुताबिक रोज शराब पीने से जल्दी मौत की आशंका बढ़ जाती है। चाहे आप किसी भी उम्र के क्यों न हों।

स्टडी कहती है कि खून को गाढ़ा होने से बचाने और ब्लड शुगर कंट्रोल करने में शराब तभी मदद करती है, जब उसे हफ्ते में तीन दिन ही एक पेग पीया जाए। कैंसर की बात करें, तो शराब पीने से ये बीमारी जल्दी घर कर सकती है।

इस स्टडी को अमेरिका में 3 लाख 40 हजार 600 लोगों पर किया गया। इसके अलावा 93 हजार 600 मरीजों पर भी स्टडी की गई। 1997 से 2009 तक 18 से 85 साल वाले सभी लोगों पर ये स्टडी हुई।

रिसर्च करने वालों ने पाया कि जो लोग हर हफ्ते चार या ज्यादा बार एक या ज्यादा पेग शराब पीते हैं, उनमें जल्दी मौत की 20 फीसदी आशंका होती है। इससे ये भी पता चला कि रोज शराब पीने से दिल की बीमारियों से बचने की बात सही नहीं है। हर हफ्ते एक या दो पेग शराब पीने से भले ही दिल की बीमारी से बचत हो, लेकिन रोज शराब पीने से वो फायदे की जगह नुकसान करती है।

स्टडी में पाया गया कि इकारिया, ग्रीस, सार्डिनिया, इटली, निकोया प्रायद्वीप, कोस्टा रिका में लोग मध्य-पूर्व का भोजन करते हैं और हर रोज एक या दो पेग रेड वाइन पीते हैं। वहीं, जापान के ओकीनावा में लोग चावल से बनी शराब पीते हैं।

Related Post

समलैंगिक संबंध अपराध है या नहीं, संविधान पीठ करेगी सुनवाई

Posted by - January 8, 2018 0
आईपीसी की धारा 377 की संवैधानिक वैधता पर पुनर्विचार करेगी सुप्रीम कोर्ट की बड़ी पीठ नई दिल्‍ली। सुप्रीम कोर्ट समलैंगिक…

डोकलाम के उत्तरी हिस्से पर चीन ने किया कब्जा, सैटेलाइट इमेज में दिखे 7 हेलिपैड

Posted by - January 17, 2018 0
हथियारों से लैस वाहन और सड़क बनाने वाली सामग्री भी इस क्षेत्र में मौजूद नई दिल्ली। डोकलाम के उत्तरी हिस्से…

जंतर-मंतर पर अब नहीं होंगे धरना व प्रदर्शन, एनजीटी ने लगाई रोक

Posted by - October 5, 2017 0
राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने कहा है कि दिल्ली में जंतर मंतर क्षेत्र में सभी धरना-प्रदर्शनों और लोगों के इकट्ठा…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *