किड्स मील में सेब नहीं फ्राइज पसंद कर रहे हैं बच्चे, हेल्दी फूड शामिल करने का नहीं हुआ फायदा

90 0

टेक्सास। कुछ साल पहले, अमेरिका में उपभोक्ता से बात करने वाले समूह ने रेस्तरां को बच्चों को हेल्दी फूड देने की सलाह दी थी। 2013 में मैकडॉनल्ड्स ने इस बात पर अमल करते हुए अपने हैपी मील बोर्ड से सोडा हटा दिया और फ्राइज, डेजर्ट्स के अलावा अपने मैन्यू में कई हेल्दी फूड को शामिल किया। मैकडॉनल्ड्स, बर्गर किंग, वेंडी और सबवे जैसे चार सबसे बड़े फास्ट फूड चेन ने किड्स मैन्यू से सोडा को हटाकर लो-फैट मिल्क, पानी, जूस और फलों को शामिल किया, लेकिन सवाल ये उठता है कि क्या इसका कोई सकारात्मक असर पड़ा? अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ कनेक्टिकट ने इस बात का जवाब ढूंढने की कोशिश की।

ऐसे किया गया सर्वे

800 पैरेंट्स पर सर्वे किया गया। इन पैरेंट्स से ये जानने की कोशिश की गई कि जब वो अपने बच्चों के साथ मैकडॉनल्ड्स, बर्गर किंग, वेंडी और सबवे जाते हैं तो क्या खाना पसंद करते हैं। यह एक ऑनलाइव सर्वे था, जो साल 2010, 2013 और 2016 में किया गया। साल 2010 से 2016 में 59 से 60 प्रतिशत लोगों ने अपने बच्चों के लिए किड्स मील खरीदा। इसकी संख्या में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई। साल 2013 में हेल्दी किड्स मील खरीदने वालों की संख्या 67 प्रतिशत तक घट गई, वहीं साल 2016 में यह घटकर 50 प्रतिशत हो गई। इससे ये बात सामने आती है कि पैरेंट्स अपने बच्चों को फ्राइज से दूर नहीं रख पा रहे हैं।

क्या कहना है वरिष्ठ नीति सहयोगी का

सेंटर फॉर साइंस में एक वरिष्ठ नीति सहयोगी हिलेरी कैरॉन का कहना है कि यह स्टडी वाकई में बहुत दिलचस्प है। इससे ये बात समझ आती है कि पैरेंट्स सही निर्णय लेने में गलतियां कर रहे हैं। अगर आपने मील में सेब की डिमांड नहीं की है तो जाहिर सी बात है आपको फ्राइज ही मिलेंगे।

उठाया ये कदम

कैलिफोर्निया में पिछले सप्ताह हेल्दी किड्स मील पॉलिसी पास की गई है। जैरी ब्राउन की सरकार ने अपने राज्य में सोडा और दूसरे हानिकारक ड्रिंक्स को बैन कर दिया है। लुइसविले, क्यू और बाल्टीमोर जैसे शहरों में इसी तरह के बिल पास हुए हैं।

Related Post

असम के बाद इन 6 राज्यों में भी इस तरह घुसपैठियों का पता करेगी सरकार !

Posted by - August 1, 2018 0
गुवाहाटी। असम के बाद अब पूर्वोत्तर के बाकी 6 राज्यों में भी बांग्लादेशी घुसपैठियों की तादाद पता करने की तैयारी…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *