खुद को बताता था PM का आध्यात्मिक गुरु, दिल्ली पुलिस के शिकंजे में फंसा

37 0
  • पीएमओ से शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने दर्ज किया था केस, क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने खुद को प्रधानमंत्री का आध्यात्मिक गुरु बताने वाले पुलकित महाराज उर्फ पुलकित मिश्रा को शुक्रवार (28 सितंबर) को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि पुलकित खुद को प्रधानमंत्री का आध्यात्मिक गुरु बताकर अलग-अलग राज्यों में सुरक्षा और वीआईपी प्रोटोकॉल की मांग करता था। यही नहीं, बड़े-बड़े नेताओं और मंत्रियों के साथ अपनी फोटो दिखा धाक जमाता था। वह राष्ट्रपति से भी सम्मानित हो चुका है।

अगस्‍त में दर्ज हुआ था केस

पुलकित महाराज के खिलाफ पीएमओ में तैनात असिस्टेंट डायरेक्टर ने शिकायत की थी। पीएमओ के पास यह मामला सीतापुर के डीएम की शिकायत के बाद पहुंचा था। बताया जा रहा है कि सीतापुर के डीएम को किसी शख्स ने पत्र लिखकर पुलकित महाराज के लिए रहने और सुरक्षा के इंतज़ाम के लिए कहा था। डीएम को उस शख्‍स ने बताया था कि वह कला और संस्कृति मंत्रालय का सचिव है। जांच में पता चला कि सीतापुर के कलेक्टर को भेजा गया मंत्रालय का लेटरहेड फर्जी है। इसके बाद अगस्‍त महीने में पुलकित के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज कर एक महीने की जांच के बाद शुक्रवार सुबह पुलकित महाराज को उसके साहिबाबाद स्थित आवास से क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार कर लिया।

‘कथक गुरु’ के नाम से है मशहूर

पुलकित महाराज न सिर्फ देश में बल्कि विदेशों में भी ‘कथक गुरु’ के नाम से मशहूर है। दुनियाभर में पुलकित के करोड़ों फैन्स हैं। जांच के दौरान पता चला है कि कथक गुरु कभी खुद को पीएम का आध्यात्मिक गुरु बताकर, कभी किसी मंत्रालय के फर्जी लेटर हेड पर अपनी ऊंची पहुंच का हवाला देकर कई राज्यो में स्टेट गेस्ट का दर्जा तक हासिल कर चुका है। पुलकित पर आरोप है कि उसने अलग-अलग मंत्रालयों के फर्जी लेटर हेड की मदद से कई राज्यों में वीवीआईपी सुविधाएं हासिल की हैं। पुलकित के कई बड़े-बड़े नेताओं के साथ फोटो भी सामने आए हैं।

फर्जीवाड़े में बहन भी सहयोगी 

पुलिस को जांच के दौरान यह भी पता चला है कि पुलकित की बहन पारुल भी हमेशा उसके साथ ही रहती थी और उसके फर्जीवाड़े में उसकी मदद करती थी। पारुल मंत्रालय के ही फर्जी लेटर हेड पर पुलकित महाराज की सचिव बनी हुई थी। यही नहीं, पुलकित दिलशाद गार्डन इलाके में ‘आलिंगन वेलफेयर सोसायटी’ के नाम से डांस एकेडमी और अपना एक आध्यात्मिक सेंटर भी चलाता था। फिलहाल, पुलकित अब 5 दिनों के लिए क्राइम ब्रांच की रिमांड पर है, जहां पूछताछ में कई खुलासे होने की उम्‍मीद है।

Related Post

शिक्षामित्रों को भर्ती में मिलेगा वेटेज, योगी कैबिनेट ने पास किया प्रस्ताव

Posted by - September 26, 2017 0
लखनऊ. लोकभवन में हुई योगी कैबिनेट बैठक में शिक्षामित्रों के प्रस्ताव पर मुहर लग गई। बेसिक शिक्षा विभाग की तरफ से…

भाजपा के बड़े नेता आतंकियों के निशाने पर, जैश ने बनाया विशेष दस्ता

Posted by - November 22, 2017 0
नयी दिल्ली : पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मौलाना मसूद अजहर भारत के कुछ बड़े नेताओं को निशाना बना…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *