टीवी शो के जरिए समझाया जा सकता है सुरक्षित सेक्स, अभियान से नहीं होता कोई फायदा

72 0

नई दिल्ली। सुरक्षित सेक्स को समझाने के लिए किसी भी जागरूक अभियान से ज्यादा टीवी शो फायदेमंद है। बिहेवियर में बदलाव के लिए जितने भी कैंपेन चलाए गए, उनसे विकासशील देशों को ज्यादा फायदा नहीं हुआ। यह बात एक अध्‍ययन में सामने आई है।

अध्‍ययन में खुलासा

वर्ष 2010 में Padian नाम के एक शख्स ने पाया कि HIV के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए 7 कैंपेन चलाई गईं जिनमें से सिर्फ एक कैंपेन ही फायदेमंद साबित हुई। रिसर्चर्स इस बात की सच्चाई जानने के लिए Edutainment नाम से एक अध्‍ययन कर रहे हैं। दरअसल, Edutainment एक मास मीडिया प्रोग्राम है, जैसे कि छोटे बच्चों को खेल-खेल में पढ़ाया जाता है। इसका उद्देश्य लोगों के व्यवहार और दृष्टिकोण को बदलना है।

ऐसे किया गया अध्‍ययन

एमटीवी शुगा नाम का एक टीवी ड्रामा दिखाने के लिए Sub-sahara Africa के 80 समुदाय को चुना गया। यह टीवी ड्रामा दिखाने का मकसद युवाओं को सुरक्षित सेक्स का मतलब समझाना था। इसके लिए 56 जगहों को चुना गया। इसके अलावा Placebo नाम का एक टीवी ड्रामा दिखाने के लिए ऐसी 26 जगहों को चुना गया, जहां लोगों को HIV के बारे में कोई जानकारी नहीं थी। इस स्टडी में 18 से 25 साल के लोगों को शामिल किया गया, जो दक्षिणी नाइजीरिया के शहरी और उप-शहरी क्षेत्रों के रहने वाले थे। बेसलाइन और 8 महीने के सर्वे के बाद डाटा कलेक्ट किया गया। दो सप्ताह के फॉलोअप सर्वे के बाद हेल्थ कैंप की शुरुआत की गई। इस कैंपेन के जरिए कंडोम, HIV टेस्ट, क्लैमिडिया संक्रमण के बारे में डाटा कलेक्ट किया गया।

सामने आया ये रिजल्ट

MTV Shuga देखने के बाद जब लोगों से पूछा गया कि अगर आपको HIV है तो क्या आप अपने पार्टनर को बताएंगे। इस बारे में 66% लोगों ने ‘हां’ कहा, 14% लोगों ने कहा ‘शायद’, वहीं 20% प्रतिशत लोगों ने कहा ‘नहीं’।

Related Post

छेड़छाड़

वो भैया कह रही थी, जहानाबाद के दरिंदे दुशासन बने हुए थे, 4 गिरफ्तार

Posted by - April 30, 2018 0
जहानाबाद। सरेआम एक लड़की के कपड़े फाड़ने और उससे गाली-गलौज करने वाले चार लोगों को जहानाबाद पुलिस की एसआईटी ने…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *