आप जानते हैं, केरल की यह फर्म बनाती है इजरायली पुलिस के यूनिफॉर्म ?

116 0

कोच्चिपिछले कुछ साल से इजरायली पुलिस के अधिकारी केरल के एक हिस्‍से का कई बार चक्‍कर लगा चुके हैं। संभव है यह जानकर आप कुछ अलग अर्थ लगा रहे हों, लेकिन वास्‍तव में ऐसा नहीं है। दरअसल, केरल के कन्‍नूर इलाके में कपड़ा बनाने वाली एक फर्म है, जो इजरायली पुलिस के लिए यूनिफॉर्म सिलती है। ये अधिकारी उसी के बारे में जानकारी करने यहां आए। शायद आपको विश्‍वास न हो, लेकिन कन्‍नूर में स्थित मरयन परिधान नामक फर्म इजरायल की पुलिस के लिए यूनिफॉर्म बनाने का काम करती है।

कैसे मिला फर्म को काम ?

लगभग साढ़े तीन साल पहले इजरायल के कमांडर उत्तरी केरल के कन्‍नूर में स्थित एक परिधान निर्माता कंपनी में आए थे। उनके साथ अधीक्षक, महिला अधिकारी डिजाइनर और गुणवत्ता नियंत्रक का एक दल भी था। उनके यहां आने के बाद केरल की इस कंपनी ने इजराइल पुलिस की यूनिफॉर्म तैयार करनी शुरू की। बता दें कि कन्नूर के पास इंडस्ट्रियल पार्क में चल रही मरयन परिधान नामक यह कंपनी पहले एक अनजान सी ड्रेस बनाने वाली कंपनी थी, लेकिन आज यह कंपनी हर साल इजराइल पुलिस को एक लाख शर्ट की सप्लाई कर रही है।

क्‍या कहते हैं फर्म के एमडी ?

मरयन परिधान के एमडी थॉमस ऑलिकल बताते हैं,  ‘इजराइल पुलिस की टीम यहां पांच दिन रुकी थी। हम लोगों के बनाए गए कपड़ों के टुकड़ों की जांच की। उन्‍हें मौसम के हिसाब से देखा और इसके बाद कंपनी को यूनिफॉर्म बनाने का ऑर्डर मिल गया। कुछ हफ्तों बाद वे सभी फिर यहां आए और हमारी कंपनी का पूरा उत्पादन का काम देखा।’ थॉमस ने बताया कि मरयम परिधान इससे पहले इजराइल पुलिस के लिए ट्राउजर्स भी बना रहे थे लेकिन इस साल यह ठेका एक चाइनीज कंपनी को मिल गया।

वर्ष 2006 में शुरू हुई थी कंपनी

वर्ष 2006 में शुरू हुई इस कंपनी में वर्तमान में 900 कर्मचारी काम करते हैं। इस कंपनी को पुलिस और सेना के यूनिफॉर्म बनाने में महारत हासिल है। कंपनी के अकाउंट मैनेजर सिजिन कुमार बताते हैं कि हम पिछले तीन सालों से इजरायली पुलिस कर्मियों के लिए यूनिफॉर्म की सप्‍लाई कर रहे हैं। हम पुरुष और महिला दोनों के लिए यूनिफॉर्म तैयार करते हैं। कंपनी यूनिफॉर्म के लिए मैटीरियल अमेरिका से आयात करती है। यही नहीं, कंपनी इनके अलावा कई देशों के सुरक्षा अधिकारियों और स्‍वास्‍थ्‍य कार्यकर्ताओं के लिए भी यूनिफॉर्म बनाने का काम करती है।

कुवैत के लिए भी बनाती है वर्दी

मरयम परिधान अब कुवैत के नेशनल गार्ड और फायर सर्विस के लिए भी वर्दी तैयार करने का काम कर रही है। थॉमस ने बताया कि लगभग डेढ़ महीने पहले हम लोगों ने फायर सर्विस की वर्दी तैयार करनी शुरू की है। हम इस ऑर्डर का एक कंटेनर कुवैत भेज भी चुके हैं। अब हम नवंबर से नेशनल गार्ड की वर्दी तैयार करना शुरू करेंगे। इतना ही नहीं, उनकी कंपनी फिलिपींस आर्मी के लिए भी वर्दी तैयार करेगी।

कई अन्‍य देशों के यूनिफॉर्म भी

इजरायल और कुवैत के अलावा यह फर्म यूनाइटेड किंगडम, जर्मनी, कतर और सउदी अरब के हेल्थ डिपार्टमेंट के कर्मचारियों की यूनिफॉर्म भी बनाती है। थॉमस ने बताया कि दोहा की हमद मेडिकल कॉर्पोरेशन सहित तीन अस्पतालों में उनकी फर्म की बनाई यूनिफॉर्म ही सप्लाई होती है। उन्होंने बताया कि पूरी दुनिया में अब कॉटन, पॉलिएस्‍टर और यूनिफॉर्म में कॉम्बिनैशन का ट्रेंड गिर गया है। कुवैत फायर सर्विस में पॉलिवूल का प्रयोग हो रहा है। पॉलिवूल पॉलिस्टर और वूल को मिलाकर बनता है। वहीं इजराइल पुलिस यूएस से आयात होने वाले कपड़े से बनी वर्दी पहनती है, लेकिन वे हमारे द्वारा प्रस्तावित कपड़े का प्रयोग भी कर सकते हैं। हमने उन्हें इस कपड़े का सैंपल भेजा है। यह कपड़ा पॉलिएस्टर, वाइसकॉस और लाइक्रा से मिलकर बना है।

Related Post

जो सामाजिक रूप से होते हैं डिस्कनेक्ट उन्हें धर्म देता है जीने का उद्देश्य

Posted by - September 4, 2018 0
मिशिगन। ऐसे लोग जो सामाजिक नहीं हैं या समाज से अलग-थलग रहते हैं, उन्हें धर्म जीने का उद्देश्य देता है।…

आप जानते हैं, इंसानों के पास कैसे आई वायरल बीमारियों से लड़ने की क्षमता ?

Posted by - October 10, 2018 0
बोस्टन। वायरल बीमारियों की खबरें हम आए दिन सुनते रहते हैं। अक्‍सर सुनने में आता है कि कोई न कोई वायरल…

मेक्सिको जा रहीं मार्क जुकरबर्ग की बहन से विमान में छेड़छाड़

Posted by - December 2, 2017 0
मेक्सिको :  फेसबुक के संस्थापक मार्क जकरबर्ग की बहन रैंडी जकरबर्ग से अलास्का एयरलाइंस की फ्लाइट में कथित छेड़छाड़ का…

बच्चों को डांटिए और पीटिए मत, डॉक्टरों ने गंभीर खतरे की ओर किया इशारा

Posted by - November 6, 2018 0
वॉशिंगटन। बच्चों की बीमारियों का इलाज करने वाले डॉक्टरों ने पैरेंट्स को आगाह किया है कि वे बच्चों को पीटना…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *