11 साल बाद फिर रंगभेद की शिकार हुईं शिल्पा शेट्टी, ऐसे निकाला गुस्सा

38 0

मुंबई। 11 साल पहले नस्लीय टिप्पणी का शिकार होने के बाद शिल्पा शेट्टी फिर से चर्चा में आ गई हैं। कई सालों बाद एक बार फिर उनके साथ ऐसा हुआ है। दरअसल, शिल्पा शेट्टी सिडनी से मेलबर्न की यात्रा कर रही थीं, तभी एयरपोर्ट पर ही एक स्टाफ ने उनके साथ नस्लभेदी व्यवहार किया। इस पूरे वाकए से नाराज शिल्पा शेट्टी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर पूरी भड़ास निकाल दी।

बदतमीजी की गई

शिल्‍पा के सोशल मीडिया पोस्ट के मुताबिक, उनके साथ ना सिर्फ बदतमीजी की गई बल्कि उन्हें नस्लभेदी टिप्पणी का भी सामना करना पड़ा। शिल्पा शेट्टी ने इस पूरी घटना को भूलने की बजाय अपने लिए स्टैंड लेना सही समझा। शिल्पा ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर इस पूरी घटना के बारे में लिखा और इसके साथ ही उन्होंने एयरलाइन कंपनी को भी उनके स्टाफ के गलत व्यवहार के बारे में बताया।

क्‍या कहा शिल्‍पा ने

उन्होंने इंस्टा पोस्ट में लिखा है कि किस तरह उनके ट्रैवलिंग बैग को एयरपोर्ट पर जरूरत से ज्यादा बड़ा (ओवरसाइज्ड) बताया गया और उसे केबिन लगेज में रखने से इनकार कर दिया गया। इतना ही नहीं, एयरपोर्ट पर मौजूद स्टाफ ने उनके साथ गलत तरीके से बात भी की। एक्ट्रेस ने इस पोस्ट के साथ ही उस बैग की फोटो भी शेयर की है और पूछा कि क्या ये बैग सचमुच में इतना बड़ा है कि वे इसे केबिन में अपने साथ नहीं ले जा सकती थीं?

रिचा चड्ढा भी हुईं शिकार

बता दें कि 2 दिन पहले ही रिचा चड्ढा ने भी जॉर्जिया में रंगभेद के शिकार होने की बात कही थी। रिचा ने लिखा था, ‘जॉर्जिया से निकलते वक्त एयरपोर्ट के पासपोर्ट कंट्रोल सेक्शन पर मुझे एक रेसिस्ट ऑफिसर मिलीं। उन्होंने मेरे पासपोर्ट को दो बार अपनी डेस्क पर जोर से फेंका और अपनी भाषा में उन्‍होंने मुझे कुछ कहा।’

Related Post

नवाज शरीफ की पत्नी कुलसुम का निधन, लंदन में चल रहा था इलाज

Posted by - September 11, 2018 0
भ्रष्‍टाचार के मामले में बेटी के साथ रावलपिंडी जेल में बंद हैं पाकिस्‍तान के पूर्व प्रधानमंत्री लंदन। पाकिस्तान के पूर्व…

अयोध्या में भगवान राम की सबसे बड़ी मूर्ति लगाने की तैयारी में योगी आदित्यनाथ

Posted by - October 10, 2017 0
लखनऊ: अयोध्या में रामलला के मंदिर का मसला भले ही सुप्रीम कोर्ट में अटका हो लेकिन विवादित स्थल से थोड़ी ही दूर…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *