अगर जरूरत से ज्यादा आता है पसीना तो हो जाएं सावधान ! इन बीमारियों के हो सकते हैं संकेत

15 0

नई दिल्ली। गर्मी में सामान्य पसीना आना तो ठीक है, लेकिन अधिक पसीना आए तो सावधान हो जाएं। ज्यादा पसीना आने से समस्याएं हो सकती हैं। लोग इसे बड़ी आम बात समझ कर ध्यान नहीं देते लेकिन आगे जाकर यह किसी गंभीर परेशानी का कारण बन सकता है। ज्यादा पसीना आने पर शरीर में पानी की कमी हो जाती है। इस समस्या को ‘हाइपरहाइड्रोसिस’ कहते हैं। जानिए इससे कौन-कौन सी बीमारियां हो सकती हैं।

जिन लोगों को जरूरत से ज्यादा पसीना आता है, उन्हें दिल से जुड़ी कोई समस्या हो सकती है। ऐसे में इस परेशानी को आम नहीं समझना चाहिए और तुरंत डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

एसी कमरे में बैठकर या सर्दी के मौसम में भी जो लोग पसीने से परेशान रहते हैं, उन्हें कैंसर जैसी गंभीर बीमारी होने का खतरा रहता है।

प्रेग्नेंसी के दौरान महिला के शरीर में हॉर्मोनल बदलाव होते हैं, जिससे गर्मी ज्यादा लगती है तो ऐसे में भी पसीना अधिक आता है।

महिलाओं में अधिक पसीना आने की वजह से उन्हें मेनोपॉज का खतरा हो सकता है। ऐसे में इस समस्या को इग्नोर नहीं करना चाहिए और डॉक्टर से चेकअप करवाना चाहिए।

क्यों आता है पसीना

हमें पसीना इसलिए आता है ताकि हमारे शरीर का तापमान नियंत्रित रहे। हमारे शरीर का तापमान 98.6 डिग्री फॉरेनहाइट के आसपास ही रहना चाहिए। इसे नियंत्रण में रखने के लिए हमारे शरीर में करीब 25 लाख पसीने की ग्रंथियां हैं। ये ग्रंथियां एयर कंडीशनिंग का काम करती हैं। जब गर्मी बहुत बढ़ जाती है तो शरीर को ठंडा करने के लिए इन ग्रंथियों से पसीने की बूंदें निकलनी शुरू हो जाती हैं। जब पसीना हवा में सूखता है तो ठंडक पैदा होती है और हमारे शरीर का तापमान कम हो जाता है।

Related Post

16 साल बाद किसी अवॉर्ड फंक्शन में पहुंचे आमिर खान, संघ प्रमुख मोहन भागवत के हाथों लिया पुरस्कार

Posted by - April 25, 2017 0
मुंबई : बॉलीवुड के मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान आम तौर पर अवॉर्ड फंक्शंस से दूर ही रहते हैं. लेकिन सोमवार की…

रिपोर्ट में खुलासा : जनजातीय इलाकों में भी बढ़ीं जीवनशैली से जुड़ी बीमारियां

Posted by - September 18, 2018 0
नई दिल्‍ली। अभी तक यह माना जाता था कि जनजातीय इलाकों में रहने वाले लोग सिर्फ कुपोषण और मलेरिया जैसी…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *