राफेल डील : पूर्व राष्ट्रपति ओलांद बोले, – भारत ने की थी रिलायंस की सिफारिश, फ्रांस का इनकार

45 0

पेरिस। राफेल लड़ाकू विमान खरीद पर देश में छिड़ी सियासी जंग के बीच शुक्रवार को एक नया मोड़ आ गया। फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने खुलासा किया है कि राफेल सौदे के लिए भारत सरकार ने ही अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस डिफेंस का नाम प्रस्तावित किया था। दसाल्ट एविएशन के पास दूसरा कोई विकल्प नहीं था। हालांकि ओलांद के इस दावे को फ्रांस की सरकार ने गलत बताते हुए इसका खंडन किया है।

क्‍या कहा फ्रांस के पूर्व राष्‍ट्रपति ने ?

फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने एक फ़्रेंच अखबार को दिए इंटरव्यू में बड़ा खुलासा किया है। उनका कहना है कि अनिल अंबानी के रिलायंस का नाम उन्हें भारत सरकार ने सुझाया था। इसमें दसाल्ट एविएशन की कोई भूमिका नहीं है। भारत सरकार के नाम सुझाने के बाद ही दसॉल्ट एविएशन ने अनिल अंबानी की रिलायंस डिफेंस से बात शुरू की। बता दें कि अप्रैल 2015 में जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फ्रांस की यात्रा पर गए, थे तब फ्रांस्वा ओलांद ही राष्ट्रपति थे। उन्हीं के साथ राफेल विमान का करार हुआ था।

फ्रांस ने ओलांद के दावे को किया खारिज

राफेल डील को लेकर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ओलांद के खुलासके के बाद इस मामले पर फ्रांस ने बयान दिया है। फ्रांस के विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘फ्रांस सरकार किसी भी तरह भारतीय साझेदार के चुनाव में शामिल नहीं है, जिसका चयन फ्रेंच कंपनी ने किया है या कर रही है या करने वाली है। भारतीय ख़रीद प्रक्रिया के मुताबिक फ़्रांसीसी कंपनी को पूरी छूट है कि वो जिस भी भारतीय साझेदार कंपनी को उपयुक्त समझे, उसे चुने। फिर उन ऑफ़सेट प्रोजेक्ट की मंजूरी के लिए भारत सरकार के पास भेजे, जिसे वो भारत में अपने स्थानीय साझेदारों के साथ अमल में लाना चाहते हैं, ताकि वे इस समझौते की शर्तें पूरी कर सके।

बढ़ सकती हैं मोदी सरकार की मुश्किलें  

ओलांद की यह बात भारत सरकार के उस दावे को खारिज करती है जिसमें कहा गया था कि दसाल्ट और रिलायंस के बीच समझौता एक कॉमर्शियल डील था, जो दो प्राइवेट फर्मों के बीच हुआ। इसमें सरकार की कोई भूमिका नहीं थी। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने कई मौकों पर यह दावा किया था कि अनिल अंबानी की रिलायंस का चुनाव पूरी तरह फ्रांसीसी कंपनी दसॉल्‍ट एविएशन का फैसला था। ओलांद के इस बयान के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर हमला बोला और कहा कि ओलांद के इस खुलासे से यह साबित होता है कि प्रधानमंत्री मोदी ने देश को धोखा दिया है।

Related Post

अररिया में आरजेडी की जीत पर भारत विरोधी नारे लगाने में दो गिरफ्तार

Posted by - March 16, 2018 0
नवनिर्वाचित सांसद सरफराज आलम बोले – यह सब बीजेपी का ही करा-धरा, मामले की जांच हो पटना। बिहार के अररिया में…

कार में एयरबैग्स, स्पीड अलर्ट सिस्टम लगाना अगले साल से होगा अनिवार्य

Posted by - October 29, 2017 0
सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने लगाई मुहर, जल्‍द जारी की जाएगी इसकी अधिसूचना नई दिल्‍ली। जुलाई, 2019 से भारत में…

2028 तक दुनिया की तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा भारत : रिपोर्ट

Posted by - November 14, 2017 0
मुंबई : 2028 तक भारत तेज विकास दर के रथ पर सवार होकर दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। अमेरिकी फर्म…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *