76 साल की दादी रोजाना 24 KM चलकर दिव्यांग पोते को ले जाती हैं स्कूल, अकेले संभालती हैं घर

115 0

गुंगाशी (चीन)। चीन के गुंगाशी प्रांत के एक गांव में रहने वाली 76 साल की बुजुर्ग महिला शी युयिंग रोजाना अपने दिव्यांग पोते को स्कूल छोड़ने के लिए 24 किमी चलकर जाती हैं। इन दिनों उनकी फोटो इंटरनेट पर वायरल हो रही है और लोग इनकी खूब तारीफ कर रहे हैं।

कुछ ऐसी है कहानी

शी युयिंग बताती हैं कि 4 साल से वह अपनी यह जिम्मेदारी निभा रही हैं। जब वह चार साल का था, तभी उसके माता-पिता का तलाक हो गया था। वह बच्चे की देखभाल अकेले करती हैं। अब बच्चे के पिता किसी दूसरे शहर में काम करते हैं और परिवार को किसी प्रकार की सहायता नहीं देते हैं। उसकी मां ने भी दूसरी शादी कर ली है। शी युयिंग अपनी पेंशन से पोते की स्कूल फीस और घर खर्च संभालती हैं।

क्या कहती हैं शी युयिंग

शी युयिंग अपने पोते जियांग हॉवेन को उसकी व्हीलचेयर से स्कूल लेकर जाती हैं। वह कहती हैं – ‘जब तक मुझमें ताकत है, मैं उसे स्कूल लेकर जाऊंगी।’ शी युयिंग के पोते जियांग को ‘सेरेब्रल पाल्सी’ नामक बीमारी है, जिससे वह चलने-फिरने में असमर्थ है। जियांग हॉवेन का कई डॉक्टरों से इलाज भी कराया गया लेकिन कोई बदलाव नहीं आया। डॉक्टरों की फीस की वजह से बुजुर्ग महिला पर कर्ज भी हो गया। अब वह किसी तरह अपने घर और बच्चे को संभाल रही हैं।

Related Post

यरूशलम में यूएस दूतावास के उद्घाटन से पहले हिंसक संघर्ष, 37 फिलिस्तीनियों की मौत

Posted by - May 14, 2018 0
इजरायली सेना ने गाजा सीमा पर जुटे प्रदर्शनकारियों पर की गोलीबारी, 500 से अधिक घायल तेल अवीव की जगह यरूशलम…

ऑस्‍ट्रेलिया में समलैंगिक शादी के पक्ष में मतदान, जल्‍द बनेगा कानून

Posted by - November 15, 2017 0
सिडनीः ऑस्ट्रेलिया में समलैंगिक शादी को कानूनी मान्यता देने के लिए  करवाए गए सर्वे  में समलैंगिक शादी के पक्ष में…

हरिद्वार के ब्रह्मकुंड में गंगा में प्रवाहित की गईं अटलजी की अस्थियां

Posted by - August 19, 2018 0
हरिद्वार। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां रविवार (19 अगस्‍त) को गंगा नदी में विसर्जित कर दी गईं। हरिद्वार में…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *