8.5 करोड़ रुपये में नीलाम हुए माल्या के दो हेलिकॉप्टर, दिल्ली की फर्म ने खरीदे

109 0

बेंगलुरु। बैंकों से कर्ज लेकर देश से फरार हुए शराब कारोबारी विजय माल्या के दो हेलिकॉप्टर नीलाम कर दिए गए हैं। बुधवार (19 सितंबर) को बेंगलुरु में हुई नीलामी में दोनों हेलिकॉप्‍टरों को 8.57 करोड़ रुपए में एक कंपनी ने खरीदा। बता दें कि बैंकों ने भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या से अपने बकाया कर्ज की वसूली के लिए इन हेलिकॉप्टरों की नीलामी  कराई है।

किसने खरीदे हेलिकॉप्‍टर ?

नीलामी में तीन फर्मों ने हिस्सा लिया था। दिल्ली की कंपनी चौधरी एविएशन ने विजय माल्‍या के ये दोनों हेलिकॉप्‍टर खरीदे। कंपनी के डायरेक्टर सत्येन्द्र सहरावत ने बताया कि 5 सीटों वाले दोनों एयरबस यूरोकॉप्टर 10 साल पुराने हैं। ई-ऑक्शन के जरिए हुई नीलामी में दोनों हेलिकॉप्टरों के लिए आरक्षित मूल्य 3.5 करोड़ रुपये रखा गया था। इनमें से एक चॉपर फिलहाल मुंबई के जूहू एयरपोर्ट पर खड़ा है। कंपनी दोनों हेलिकॉप्टर का व्यावसायिक कामों में इस्तेमाल करेगी। बता दें कि माल्‍या की किंगफिशर एयरलाइंस अब ठप हो चुकी है।

अब तक 963 करोड़ रुपए की वसूली

बता दें कि विजय माल्या पर 17 बैंकों का 9,000 करोड़ रुपए का कर्ज है। माल्या ने 2007 से 2012 के बीच बैंकों से ये लोन लिया लेकिन चुकाया नहीं। जुलाई में एसबीआई ने कहा था कि बैंकों ने माल्या की संपत्तियां बेचकर 963 करोड़ रुपए की वसूली कर ली है। विजय माल्या मार्च 2016 में लंदन भाग गया था। उस पर मनी लॉन्ड्रिंग के भी आरोप हैं। लंदन की अदालत में विजय माल्या के भारत प्रत्यर्पण का मामला चल रहा है। इस पर 10 दिसंबर को फैसला आएगा।

Related Post

बॉल टैम्परिंग : स्टीव स्मिथ ने रोते हुए मांगी माफी, बोले – इसके लिए मैं ही जिम्मेदार

Posted by - March 29, 2018 0
सिडनी। बॉल टैम्परिंग विवाद के बाद स्वदेश लौटे स्टीव स्मिथ ने गुरुवार को रोते हुए सार्वजनिक रूप से सबसे माफी…

केंद्र को SC की फटकार, कहा – ‘ताजमहल को सहेज नहीं सकते तो गिरा दें’

Posted by - July 11, 2018 0
नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने ताजमहल के संरक्षण को लेकर उठाए गए कदमों को लेकर केंद्र, उप्र सरकार तथा उसके प्राधिकारियों…

रिसर्च : चिकनगुनिया की होगी तुरंत पहचान, भारतीय वैज्ञानिकों ने खोजी नई तकनीक

Posted by - October 5, 2018 0
नई दिल्‍ली। भारतीय वैज्ञानिकों ने बायोसेंसर आधारित एक ऐसी तकनीक विकसित करने में सफलता पाई है, जो चिकनगुनिया वायरस की…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *