दूसरी जाति का था पति, इसलिए लड़की वालों ने एक करोड़ की सुपारी दे कराई हत्या

140 0
  • पुलिस ने मुख्‍य आरोपी समेत 7 लोगों को बिहार के समस्‍तीपुर से किया गिरफ्तार

नलगोंडा (तेलंगाना)। बीते शनिवार (15 सितंबर) को तेलंगाना में 24 वर्षीय इंजीनियर प्रणय पेरुमल्‍ला की कुल्हाड़ी मार कर दी गई थी। प्रणय उस वक्त अपनी गर्भवती पत्‍नी अमृता को डॉक्‍टर को दिखाने के बाद उसके साथ अस्पताल से बाहर आ रहे थे। इस मामले में पुलिस ने मुख्‍य आरोपी समेत 7 लोगों को बिहार के समस्‍तीपुर से गिरफ्तार किया है। पता चला है कि यह हत्‍या कॉन्‍ट्रैक्‍ट किलर को एक करोड़ रुपये सुपारी देकर कराई गई थी। हत्‍या की सुपारी कथित तौर पर अमृता के घरवालों ने दी थी।

पुलिस ने किया खुलासा

नलगोंडा के पुलिस अधीक्षक एवी रंगनाथ ने मंगलवार (18 सितंबर) को प्रेस कांफ्रेंस कर हत्‍या की पूरी साजिश का खुलासा किया। उन्‍होंने बताया कि पुलिस प्रणय की हत्या के लिए गैंग ने एक करोड़ रुपये की सुपारी ली थी। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अमृता के पिता मारुति राव, उनके क़रीबी करीम, असग़र, मोहम्‍मद भारी, सुभाष शर्मा, अमृता के चाचा श्रवण राव और उनके ड्राइवर को प्रणय की हत्या और उसकी साज़िश रचने के मामले में गिरफ़्तार किया गया है। पुलिस का कहना है कि असग़र अली और मोहम्मद भारी नलगोंडा के ही निवासी हैं और गुजरात के मंत्री हरेन पंड्या की हत्या मामले में भी अभियुक्त हैं।

पहले भी दो बार हमले की कोशिश

पुलिस अधीक्षक ने खुलासा किया कि प्रणय पर इससे पहले भी दो बार हमले की कोशिश हुई थी। 9 अगस्‍त से ही उसकी रेकी की जा रही थी। पुलिस ने बताया कि प्रणय पर हमले की पहली कोशिश 14 अगस्त  को और दूसरी सितंबर के पहले हफ़्ते में की गई, लेकिन हत्‍यारों को सफलता नहीं मिली। इसके बाद 15 सितंबर को दोपहर में उसके ऊपर फिर हमला किया गया और धारदार हथियार से प्रणय की हत्‍या कर दी गई। पुलिस अधीक्षक ने कहा, ‘जांच के दौरान लड़की के पिता ने कहा कि प्रणय अनुसूचित जाति से था, उसने ठीक से पढ़ाई नहीं की थी और मध्यम वर्ग के परिवार से संबंध रखता था।’

अमृता ने पिता व चाचा पर लगाया आरोप

इस मामले में अमृता ने अपने पिता मारुति राव और चाचा श्रवण राव पर हत्या का आरोप लगाया था। अमृता ने बताया था कि प्रणय दूसरी जाति के थे, इसलिए अमृता के घरवाले इस शादी का विरोध कर रहे थे। पुलिस के मुताबिक, मारुति राव रियल स्टेट व्यवसायी हैं और क्षेत्र में काफी प्रभावशाली व्यक्ति के तौर पर उनकी पहचान है। अमृता का कहना था कि उन्‍हें अपने ऊपर हमले का डर तो लगता था, लेकिन घरवाले इतनी क्रूरता पर उतर जाएंगे इसका अंदाजा नहीं था। बता दें कि अमृता इस समय गर्भवती है।

जनवरी में हुई थी शादी

प्रणय और अमृता ने इसी साल जनवरी महीने में आर्यसमाज मंदिर में माता-पिता की इजाजत के बगैर शादी की थी। दोनों की मुलाकात स्कूल में हुई थी जो कॉलेज तक पहुंचते-पहुंचते प्यार में बदल गई थी। शादी के बाद मई में प्रणय के माता-पिता ने दोनों के लिए एक स्वागत समारोह का आयोजन किया था। जब सोशल मीडिया पर समारोह की तस्वीरें शेयर हुईं तो इस बात से मारुति राव काफी अपमानित महसूस करने लगे थे। प्रणय की हत्‍या के बाद अमृता का कहना है कि अब वह अपने माता-पिता के पास नहीं जाएगी। प्रणय का घर ही उसका घर है।

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *