हफ्तों पहले नजर आने लगते हैं कैंसर के ये लक्षण, इसे हलके में मत लें

133 0

नई दिल्ली। हर बीमारी के लक्षण पहले से होते हैं। कई बार हम इसे इतने हल्के में ले लेते हैं कि बाद में हमें दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। अगर हम हर 6 महीनों में हेल्थ चेकअप करवाएं तो इन बीमारियों से बचा जा सकता है। आज हम आपको कैंसर के कुछ लक्षणों के बारे में बताने जा रहे हैं जो हफ्तों पहले शरीर में नजर आने लगते हैं।

स्तन कैंसर के लक्षण : ब्रेस्ट कैंसर से पहले स्तनों में काफी बदलाव होते हैं। जैसे निप्पल में गांठ, खुजली, रैशेज का होना। इन लक्षणों को ज्यादातर महिलाएं इग्‍नोर कर देती हैं।

पेशाब या मल के साथ ख़ून निकले तो तुंरत चेकअप कराएं : अगर टॉयलेट करते वक्त खून आता है तो इसे हॉर्मोनल चेंज समझकर हल्के में नहीं लेना चाहिए। यह किडनी या पेशाब की थैली में कैंसर का संकेत हो सकता है।

वजन कम होना : अगर अचानक वजन कम हो जाता है तो खुश होने की बजाय उसका कारण खोजना चाहिए, क्योंकि ये किसी बीमारी की निशानी हो सकती है। पैनक्रियाटिक, लंग या स्टमक कैंसर की संभावना भी हो सकती है।

बुखार : लम्बे समय तक ठीक न होने वाला बुखार ब्लड कैंसर का शुरुआती लक्षण हो सकता है। कैंसर के पीड़ित सभी मरीजों को इम्यून सिस्टम कमज़ोर होने के कारण बुखार होता ही है।

खांसी में खून : एक महीने से ज्यादा लगातार खांसी, उसमें खून आना, सांस लेने में तकलीफ कैंसर के शुरुआती संकेत हो सकते हैं। ऐसे लक्षणों को कभी भी इग्नोर न करें।

शरीर में दर्द : बिना किसी वजह से एक महीना या उससे अधिक समय तक शरीर में दर्द रहना हड्डी, ब्रेन या दूसरे कैंसर के संकेत हो सकते हैं। लगातार होने वाला सिरदर्द ब्रेन ट्यूमर का संकेत हो सकता है।

Related Post

केरल लव जिहाद केस : सुप्रीम कोर्ट के दखल पर हदिया हुई आजाद

Posted by - November 27, 2017 0
सुप्रीम कोर्ट में बोली हदिया – मुझे मेरी आजादी चाहिए, डॉक्टरी पढ़ने जाएगी कॉलेज, सुरक्षा देने का आदेश नई दिल्‍ली। केरल…

ग्रेटर नोएडा में अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज जितेंद्र मान की गोली मारकर हत्या

Posted by - January 13, 2018 0
हत्‍या के बाद 48 घंटे तक ग्रेटर नोएडा की एवीजे हाइट्स सोसायटी के फ्लैट में पड़ा रहा शव नोएडा। अंतरराष्ट्रीय…

सुप्रीम कोर्ट ने कहा – जनहित याचिकाओं का हो रहा बेजा इस्तेमाल, पुनर्विचार की जरूरत

Posted by - November 25, 2017 0
नई दिल्ली  : जनहित याचिकाओं के दुरुपयोग पर चिंता जताते हुए शीर्ष अदालत ने कहा कि इस व्यवस्था पर अब…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *