हवा में प्रदूषण से होते हैं पिंपल्स, शरीर में होने लगती है खुजली

106 0

नई दिल्ली। हवा में प्रदूषण बढ़ने की वजह से भारतीयों को त्वचा संबंधी बीमारियां हो रही हैं। हवा में घुले खतरनाक तत्व इसकी बड़ी वजह हैं। ये खुलासा देश के प्रीमियर स्वास्थ्य संस्थान एम्स में हुई स्टडी से हुआ है।

ये हैं त्वचा के लिए खतरनाक वायु प्रदूषक
एम्स की स्टडी कहती है कि हवा में घुले सूक्ष्म कण, कार्बन मोनॉक्साइड, ओजोन, नाइट्रोजन डाईऑक्साइड और सल्फर डाईऑक्साइड का त्वचा पर बहुत बुरा असर पड़ता है। साल 2016 में विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक रिपोर्ट में बताया गया था कि रियाद के बाद दिल्ली दुनिया का दूसरा सबसे ज्यादा प्रदूषण वाला शहर है और इन दोनों शहरों में त्वचा की बीमारियों से परेशान लोगों की अच्छी-खासी तादाद है।

2017 में हुई एक रिसर्च ये कहती है
साल 2017 में ज्यां क्रुतमैन, डॉमिनिक मोयाल और अन्य ने एक रिसर्च की थी। इससे पता चला था कि हवा में मौजूद प्रदूषकों और त्वचा की बीमारियों के बीच सीधा संबंध है। इनमें छोटे कण, ओजोन, नाइट्रोजन डाईऑक्साइड और सल्फर डाईऑक्साइड प्रमुख हैं। एम्स के त्वचा रोग संबंधी विभाग के मुताबिक उसकी ओपीडी में साल 2010 में जहां त्वचा की बीमारी से ग्रस्त 62 हजार 633 मरीज आए थे। वहीं, साल 2016 में ऐसे मरीजों की तादाद 84 हजार 464 हो गई। यानी इसमें 34.8 फीसदी का इजाफा देखने को मिला। इसी तरह दिल्ली के तमाम निजी अस्पतालों और त्वचा रोग विशेषज्ञों के पास बीमार लोगों की तादाद भी बढ़ी।

त्वचा में इस तरह होती है दिक्कत
-एम्स के अनुसार हवा में प्रदूषण से त्वचा में तेल की मात्रा अपने आप बढ़ जाती है। इससे रोम छिद्र बंद होते हैं और त्वचा रोग होने लगते हैं।
-सल्फर डाईऑक्साइड सी वजह से पिंपल्स और खुजली होती है। नाइट्रोजन डाईऑक्साइड से स्किन पर काले धब्बे और रंग बदलने जैसी शिकायतें होती हैं।
-दिल्ली में साल 2013 में एक्जिमा के 56 हजार 373 मरीज थे। साल 2016 में इनमें 159 फीसदी की बढ़ोतरी हुई और एक्जिमा के मरीज 1 लाख 46 हजार 199 हो गए।

Related Post

सोशल मीडिया पर फिटनेस मुहिम की धूम, कोहली ने दिया पीएम मोदी को चैलेंज

Posted by - May 24, 2018 0
प्रधानमंत्री मोदी ने स्वीकार किया विराट कोहली का चैलेंज, बोले – जल्द शेयर करेंगे वीडियो खेल राज्यमंत्री कर्नल राज्यवर्धन सिंह…

रिटायरमेंट के 3 दिन पहले अधिकारी के घर छापा, मिली 500 करोड़ की संपत्ति

Posted by - September 26, 2017 0
आंध्र प्रदेश में भ्रष्टाचार निरोधक दल (एंटी करप्श ब्यूरो) ने एक निगम अधिकारी को आय से अधिक संपत्ति  के मामले…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *