पत्ते तोड़ने पर पौधों को भी होता है दर्द, देते हैं दूसरे पौधे को बचने का सिग्नल

193 0

टेक्सास। थोड़ा सा कटने या छिलने पर हमें दर्द महसूस होता है ना! कभी खेलते हुए गिर जाओ और घुटना छिल जाए तो आंसू भी निकल पड़ते हैं। पर कभी सोचा है उन पौधों के बारे में, जिनके पत्ते आप तोड़ लेते हैं। आपको ये जानकर हैरानी होगी कि ये भी रोते हैं, मदद मांगते हैं। पौधे एक-दूसरे को सिग्नल देकर खतरे से सावधान भी करते हैं। जी हां, पौधे कैटरपिलर के पैरों के निशान से भी सावधान हो जाते हैं। अमेरिका के विस्कॉन्सिन विश्वविद्यालय के रिसर्चर्स ने इस बात का खुलासा किया है।

कैसे होता है दर्द

जब पौधे के पत्ते को कीड़ा काटता है तो उस जगह से कैल्शियम निकलता है। इसके बाद महज 2 मिनट के अंदर पौधे के हर पार्ट में इसका रिस्‍पांस पहुंच जाता है। पौधों से कैल्शियम हार्मोन की प्रतिक्रिया पैदा होती है जो पत्तों को बचाती है। कुछ पौधे खतरनाक रसायन उत्‍सर्जित करते हैं जो कीड़ों को पसंद नहीं आते हैं क्योंकि इसका टेस्ट खराब होता है। इस वजह से वे उनसे दूर रहते हैं।

 

ऐसे की गई स्टडी

रिसर्चर्स ने सरसों का एक आर्टीफिशियल पौधा बनाया। उन्होंने पाया कि जब भी मिनिरल रोज का स्तर बढ़ता है तब पौधा ट्यूबलाइट में चमकता है। उन्होंने पाया कि चोट लगने पर पौधे चमकने लगा। रिसर्चर्स का कहना है कि ऐसा कैल्शियम की वजह से होता है। इसे ‘warning response’ कहा जाता है, जिससे पता चलता है कि उन्हें भी दर्द होता है।

 

ऐसे करते हैं बातचीत

Dr Masatsugu Toyota ने बताया कि पौधे लोकल सिग्नल को तुरंत समझ जाते हैं, जैसे कि जानवरों के हमले। इस जानकारी को वो अपने हर एक पार्ट तक पहुंचाते हैं। पौधे के सेल्स से कैल्शियम सक्रिय हो जाते हैं। इसके बाद पौधे दूसरे पौधों से बातचीत करते हैं।

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *