जानिए कहां बना देश का पहला ‘डॉग पार्क’, क्या हैं इसकी खासियतें

55 0

हैदराबाद अगर आपको कुत्‍ते पालने का शौक है तो अक्‍सर आपके सामने ये समस्‍या आती होगी कि इसे घुमाने कहां ले जाएं। कई पार्कों में कुत्तों को ले जाने पर पाबंदी होती है। लेकिन अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। तेलंगाना के हैदराबाद में पालतू कुत्तों के लिए देश का पहला ‘डॉग पार्क’  बनाया गया है। इसमें कई तरह की सुविधाएं हैं। 

किसने बनवाया पार्क ?

बृहद हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) ने कोंडापुर में पालतू कुत्तों के लिए विशेष ‘डॉग पार्क’ का निर्माण कराया गया है। इसको बनाने में 1.1 करोड़ रुपये की लागत आई है और इसे 1.3 एकड़ में में विकसित किया गया है। दरअसल जिस जगह यह पार्क बनाया गया है, वहां पहले कूड़े का डंपिंग यार्ड था। इस पार्क का उद्घाटन इसी महीने होना है, उसके बाद इसे जनता के लिए खोल दिया जाएगा। हरिचंदना ने कहा कि लोग अपने पालतू कुत्तों को यहां ला सकते हैं और पार्क की सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं।

पार्क में कुत्तों को प्रशिक्षण देने वाले और कसरत के उपकरण भी लगाए गए हैं

कैसे मिली प्रेरणा ?

जीएचएमसी की जोनल आयुक्त डी. हरिचंदना ने बताया कि उन्होंने इस तरह के ‘डॉग पार्क’ अन्य देशों में देखे थे और फिर उन्‍होंने सोचा कि ऐसा अंतरराष्ट्रीय मानक वाला पार्क अपने यहां क्यों नहीं हो सकता है। बस इसी के बाद उन्‍होंने इस पर आगे कदम बढ़ाया और आज यह डॉग पार्क बनकर तैयार है। उन्होंने बताया कि यह देश का पहला पहला प्रमाणित डॉग पार्क है।

पार्क में हैं कौन-कौन सी सुविधाएं – 

  • पार्क में कुत्तों को प्रशिक्षण देने वाले उपकरण, कसरत के उपकरण, दो लॉन, एक एम्फीथिएटर हैं।
  • पार्क में बड़े और छोटे कुत्तों के लिए अलग-अलग अहाते समेत अन्य सुविधाएं भी हैं।
  • पार्क में कुत्तों को निशुल्क टीकाकरण की भी सुविधा मिलेगी।
  • इस डॉग पार्क में वॉकिंग ट्रैक और क्‍लीनिक की सुविधा भी है।
  • यहां पर एक पशु चिकित्सक, कुत्‍ते का प्रशिक्षक और मानकों के अनुरूप सफाई की व्‍यवस्‍था की गई है।

Related Post

शरद पवार के बयान से नाराज तारिक अनवर ने छोड़ी NCP, लोकसभा से भी इस्तीफा

Posted by - September 28, 2018 0
मुंबई। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के सांसद और पार्टी महासचिव तारिक अनवर ने शुक्रवार (28 सितंबर) को पार्टी से इस्‍तीफा दे…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *