CBSE टॉपर से गैंगरेप के आरोपियों में सेना का जवान भी, तीनों की हुई पहचान

44 0

चंडीगढ़ हरियाणा के रेवाड़ी में 19 साल की CBSE टॉपर युवती से हुए गैंगरेप की घटना में पुलिस ने 3 आरोपियों की पहचान कर ली है। राज्‍य के पुलिस महानिदेशक बीएस संधू ने शनिवार (15 सितंबर) को बताया कि युवती से बलात्कार के तीन आरोपियों में एक सेना का जवान भी शामिल है। पुलिस ने तीनों आरोपियों की तस्वीरें भी जारी की हैं। बता दें कि मामले की जांच कर रही एसआईटी ने आरोपियों का सुराग देने वाले को 1 लाख रुपये इनाम देने की घोषणा की है। 

राजस्‍थान में तैनात है सैन्‍यकर्मी

युवती से रेप की पुष्टि होने के बाद पुलिस ने शनिवार को इस मामले में एक जानकारी दी। पुलिस ने बताया है कि रेप का मुख्य आरोपी सेना का एक जवान है, जिसकी पोस्टिंग राजस्थान में है। उसका नाम पंकज फौजी बताया जा रहा है। वह फिलहाल छुट्टी पर था। डीजीपी संधू ने बताया कि पुलिस पूरी कोशिश कर रही है और जल्‍दी ही आरोपी पुलिस के शिकंजे में होंगे। सैन्‍यकर्मी के खिलाफ वॉरंट जारी किया जा रहा है। उसे गिरफ्तार करने के लिए पुलिस टीम राजस्‍थान भेजी गई है। बता दें कि शनिवार को एसआईटी की टीम युवती द्वारा बताए गए घटनास्थल पर भी पहुंची थी।

सेना ने दिया मदद का भरोसा

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय सेना की दक्षिण पश्चिम कमांड के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल चेरिश मेथसन ने शनिवार को कहा कि रेवाड़ी बलात्कार कांड में अगर कोई सैन्यकर्मी संलिप्त पाया जाता है तो सेना आरोपी को सजा दिलवाने में मदद करेगी। मेथसन ने कहा, ‘हम अपराधियों को प्रश्रय नहीं देते। हम आरोपी की तलाश में मदद करेंगे और यह सुनिश्चित करेंगे कि अगर कोई सैनिक बलात्कार मामले में संलिप्त पाया जाता है तो वह सींखचों के पीछे हो।’

राष्ट्रीय महिला आयोग ने डीजीपी को लिखी चिट्ठी

राष्ट्रीय महिला आयोग ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए हरियाणा के डीजीपी को चिट्ठी लिखी है। आयोग ने डीजीपी से गैंगरेप मामले में जांच की प्रगति रिपोर्ट मांगी है। वहीं एसआईटी की चीफ एसपी नाजीनन भसीन पीड़िता मिलने के लिए जिला अस्पताल पहुंचीं। मीडिया से बात करते हुए एसपी ने बताया – ‘मैंने आज पीडि़ता से बात की है। उसकी हालत फिलहाल स्थिर है। मुख्य आरोपी की पहचान कर ली गई है। हम इस मामले में हर पहलू पर जांच कर रहे हैं।’

क्या है मामला ?

बता दें कि रेवाड़ी की 19 साल की युवती के साथ बीते बुधवार को गैंगरेप का मामला सामने आया था। वह कोचिंग सेंटर से घर लौट रही थी, तभी बस अड्डे से पंकज और मनीष नाम के दो युवकों ने युवती को लिफ्ट देने के बहाने अगवा कर लिया था। आरोपी युवती के गांव के ही रहने वाले थे इसलिए वह उन्हें जानती थी। आरोपी युवती को लिफ्ट देकर एक सुनसान स्थान पर ले गए जहां उसे नशीला पदार्थ पिलाकर उससे सामूहिक बलात्कार किया। इस मामले में लड़की के पिता ने कहा था कि हो सकता है 8 से 10 लोगों ने उससे बलात्कार किया हो।

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *