चुनाव से पहले दंगों से इस पार्टी को होता है सबसे ज्यादा फायदा !

42 0

नई दिल्ली। सांप्रदायिक दंगों से किसे फायदा होता है ? इस सवाल का जवाब लोग नेताओं की बात कहकर देते हैं। अब एक रिसर्च में सामने आया है कि दंगों से आखिर किस पार्टी को फायदा हुआ और किसे नुकसान।

चुनाव से पहले दंगों से बीजेपी को फायदा

वहीं, कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के रिसर्च स्कॉलर श्रीया अय्यर और आनंद श्रीवास्तव की रिसर्च दंगों से बीजेपी को फायदा पहुंचने का खुलासा करती है। ये रिसर्च 1981 से 2001 के बीच 16 राज्यों में विधानसभा चुनाव और दंगों के बीच रिश्तों को लेकर की गई है। रिसर्च के नतीजे बताते हैं कि किसी राज्य में विधानसभा चुनाव से एक साल पहले दंगे होने पर बीजेपी को 5 से 7 फीसदी ज्यादा वोट मिलते हैं। वहीं, अमेरिका की येल यूनिवर्सिटी की एक रिसर्च जर्नल ऑफ पॉलिटिकल साइंस में छपी है। इस रिसर्च में बताया गया है कि जिन विधानसभा क्षेत्रों में कांग्रेस के उम्मीदवार हारे, वहां सांप्रदायिक दंगों में बढ़ोतरी हुई। जहां कांग्रेस के उम्मीदवार कम वोटों से भी जीते, उन इलाकों में सांप्रदायिक दंगे कम ही देखने  मिले।

अगर सारे कांग्रेस उम्मीदवार हार जाते ?

रिसर्च कहती है कि अगर 1960 से साल 2000 तक हुए चुनावों में कांग्रेस का हर उम्मीदवार हार जाता, तो भारत में 11 फीसदी ज्यादा सांप्रदायिक दंगे होते। बता दें कि इस दौर में भारत में 998 सांप्रदायिक दंगे हुए थे और करीब 30 हजार लोग मारे गए। रिसर्च के मुताबिक कांग्रेस उम्मीदवारों के हारने से 1960 से 2000 के बीच 1114 दंगे हुए होते और इसमें 43 लोग मारे जाते। रिसर्च के मुताबिक कांग्रेस ने अगर सभी उम्मीदवार जिता लिए होते, तो 1960 से 2000 के बीच दंगों की संख्या में 10 फीसदी गिरावट आती। यानी 103 दंगे न हुए होते।

चुनाव से पहले दंगों से कांग्रेस को नुकसान

रिसर्च करने वालों का कहना है कि किसी राज्य में विधानसभा चुनाव से एक साल पहले सांप्रदायिक दंगे होने पर बीजेपी को फायदा पहुंचता है। जबकि, कांग्रेस के वोटों में 1.3 फीसदी की गिरावट आ जाती है। इसके अलावा चुनाव से पहले सांप्रदायिक दंगे होने पर कुछ धार्मिक ग्रुप का समर्थन कांग्रेस के साथ नहीं रह जाता।

Related Post

कैराना-नूरपुर उपचुनाव : दलित-मुस्लिम इलाकों में EVM फेल, सपा-रालोद चुनाव आयोग पहुंचे

Posted by - May 28, 2018 0
कैराना/लखनऊ। यूपी की कैराना लोकसभा और नूरपुर विधानसभा उपचुनाव के लिए सोमवार (28 मई) को मतदान हो रहा है। कैराना…

सिर्फ 2 लाख में इस महिला ने खोली थी वेडिंग कंसल्टेंसी, 6 साल में टर्नओवर 10 करोड़ के पार

Posted by - September 18, 2018 0
मुंबई। शादी में कोई कमी न रह जाए इसलिए लोग महीनों पहले से सारी तैयारियां करने लगते हैं। हलवाई से…

वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर पार्टी से हुए सस्पेंड

Posted by - December 8, 2017 0
प्रधानमंत्री मोदी को नीच कहने पर कांग्रेस ने उन्‍हें प्राथमिक सदस्‍यता से निलंबित किया पीएम नरेंद्र मोदी को नीच कहने…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *