नवाज शरीफ की पत्नी कुलसुम का निधन, लंदन में चल रहा था इलाज

127 0
  • भ्रष्‍टाचार के मामले में बेटी के साथ रावलपिंडी जेल में बंद हैं पाकिस्‍तान के पूर्व प्रधानमंत्री

लंदन। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पत्‍नी कुलसुम नवाज का मंगलवार (11 सितंबर) को लंदन में निधन हो गया। वे 68 साल की थीं। कुलसुम लंबे समय से बीमार चल रही थीं और इलाज के लिए लंदन गई थीं। पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के अध्यक्ष शहबाज शरीफ और उनके बेटे हुसैन नवाज ने कुलसुम के निधन की पुष्टि की। बता दें कि नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम भ्रष्टाचार के मामले में अभी पाकिस्तान में रावलपिंडी जेल में बंद हैं। उन्‍हें कुलसुम के इंतकाल की जानकारी दे दी गई है।

गले के कैंसर से पीडि़त थीं कुलसुम

जियो टीवी की खबर के अनुसार, कुलसुम का लंदन के हार्ले स्ट्रीट क्लीनिक में इलाज चल रहा था। सूत्रों के मुताबिक, इलाज के दौरान ही उनके फेफड़े में संक्रमण हो गया था। सोमवार रात तक उनकी हालत ठीक थी, लेकिन फिर देर रात तबीयत अचानक बिगड़ गई। मंगलवार सुबह उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था। वह गले के कैंसर से पीड़ित थीं। इसकी जानकारी अगस्त 2017 में हुई।

बेटी के साथ जेल में बंद हैं शरीफ

पिछले दिनों पाकिस्‍तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम नवाज भी कुलसुम के पास लंदन में ही थे। पाकिस्तान की अदालत द्वारा भ्रष्टाचार के मामले में सजा सुनाए जाने के बाद शरीफ अपनी बेटी मरियम के साथ स्वदेश लौट आए थे। इसके बाद उनको और उनकी बेटी को एयरपोर्ट से ही गिरफ्तार कर लिया गया था। फिलहाल नवाज शरीफ और मरियम नवाज पाकिस्तान की जेल में बंद हैं। नवाज शरीफ से कुलसुम का निकाह साल 1971 में हुआ था। शरीफ को जिंदगी भर इस बात का गम रहेगा कि वे अपनी पत्‍नी कुलसुम से अंतिम समय में नहीं मिल पाए।

पाकिस्‍तान में होंगी सुपुर्द-ए-खाक

मीडिया रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि कुलसुम के शव को पाकिस्तान लाकर यहीं सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा। वहीं, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा ने कुलसुम नवाज के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। पाकिस्तानी पीएम खान ने लंदन स्थिति पाकिस्तानी हाई कमीशन को कुलसुम नवाज के परिजनों की हर संभव मदद करने का निर्देश दिया है।

Related Post

काबुल हमले के बाद अमेरिका सख्त, कहा – तालिबान की सभी पनाहगाहें खत्म करेंगे

Posted by - January 28, 2018 0
विदेश मंत्री टिलरसन का आह्वान – दुनिया में अमन चाहने वाले देश साथ आएं वॉशिंगटन। अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *