RBI ने किया नियमों में बदलाव, अब बदल सकेंगे 2000 व 200 रुपये के कटे-फटे नोट

49 0

मुंबई। आरबीआई ने कटे-फटे नोट बदलने के अपने नियमों में बदलाव किया है। नोट रिफंड नियम-2009 में किए गए इस संशोधन के बाद अब आप 200 और 2000 रुपये के कटे-फटे नोट भी बदल सकते हैं। बता दें कि 2000 और 200 के नोट वर्ष 2016 में नोटबंदी के बाद जारी किए गए थे, लेकिन आरबीआई के नियमों में इन नोटों को बदलने का कोई प्रावधान नहीं था। इसके कारण बैंक इन नोटों को बदलने से इनकार कर देते थे।

क्‍या है नए नियम में ?

बता दें कि अबतक 5, 10, 20, 50, 100, 500 रुपये के कटे-फटे या गंदे नोटों को बदलने का नियम था, लेकिन 200 और 2000 रुपये के नोटों को बदलने को लेकर लोगों को दिक्कत हो रही थी। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा कटे-फटे या गंदे नोटों को लेकर अपने नियम में संशोधन करने के बाद अब आप 200 और 2000 रुपये के कटे-फटे या गंदे नोट बैंक में बदल सकते हैं। हालांकि नोट की हालत के लिहाज से उसकी कीमत तय की जाएगी। मसलन अगर नोट ज्‍यादा कटे-फटे होंगे तो उनकी पूरी कीमत नहीं मिलेगी।

कैसे तय होगी नोटों की कीमत ?

आरबीआई के नए नियमों के मुताबिक, 2 हजार के नोट की पूरी कीमत लेने के लिए ग्राहक को नोट के वास्तविक आकार का कम से कम 88% हिस्सा बैंक को देना होगा। वहीं 44% हिस्सा लौटाने पर नोट की आधी कीमत मिलेगी। इसी प्रकार 200 के नोट की पूरी कीमत पाने के लिए ग्राहक के पास नोट के वास्तविक आकार का कम से कम 78% और आधी कीमत के लिए 39% हिस्सा होना चाहिए। नई सीरीज के 100 रुपए के नोट के 75% हिस्से पर पूरी कीमत मिल सकेगी, वहीं आधी कीमत के लिए 38% हिस्से की जरूरत पड़ेगी। नए 50 रुपए के नोट का 72% हिस्सा लाने पर ही ग्राहक को पूरी और 36% पर आधी कीमत मिलगी।

Related Post

हरियाणा, जम्मू-कश्मीर व बिहार में भूकंप के तेज झटके, रिक्‍टर स्‍केल पर तीव्रता 4.6

Posted by - September 12, 2018 0
नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर और हरियाणा के कई इलाकों में बुधवार (12 सितंबर) तड़के भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। जम्मू-कश्मीर…

एयरपोर्ट पर इन 10 दस्तावेजों में से एक दिखाने पर ही मिलेगी एंट्री

Posted by - October 28, 2017 0
नई दिल्ली. एविएशन सिक्योरिटी ब्यूरो ने एयरपोर्ट में एंट्री के लिए 10 पहचान पत्रों को अनिवार्य कर दिया है. ब्यूरो पहचान…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *