अभिनेता गिरीश कर्नाड ने गले में टांगी ‘मी टू अर्बन नक्सल’ लिखी तख़्ती, शिकायत दर्ज 

74 0

बेंगलुरु। जाने-माने अभिनेता, नाटककार और ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित गिरीश कर्नाड एक कार्यक्रम के दौरान ‘मी टू अर्बन नक्सल’ (मैं भी नक्सली)’ लिखी एक तख्ती गले में लटकाने पर विवादों में घिर गए हैं। इसके विरोध में एक वकील ने शुक्रवार को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। बता दें कि गिरीश कर्नाड पत्रकार-कार्यकर्ता गौरी लंकेश की पहली बरसी पर बेंगलुरु में 5 सितंबर को आयोजित एक कार्यक्रम में शिरकत कर रहे थे।

क्‍या कहा गया है शिकायत में ?

अपनी शिकायत में वकील अमृतेश एन.पी. ने कहा कि कार्यक्रम में कर्नाड को गले में एक तख्ती लटकाए देखा गया, जिसके जरिए वह खुद को शहरी नक्सल घोषित कर रहे थे। अपनी शिकायत में उन्होंने कहा, ‘शहरी नक्सल वे हैं जो राष्ट्र के खिलाफ विद्रोह फैला रहे हैं।’ उन्होंने कर्नाड को तुरंत गिरफ्तार करने की मांग की। अमृतेश ने कहा, ‘इस तरह की तख्ती गले में लटका कर कर्नाड ने नक्सलवाद की हिंसक एवं आपराधिक गतिविधियों को प्रचारित-प्रसारित करने और उकसाने का प्रयास किया है।’

शिकायतकर्ता ने उठाए सवाल

अमृतेश ने कहा कि कोई कैसे एक प्रतिबंधित संगठन का बैनर रख सकता है और उसका समर्थन कर सकता है। विधानसभा (राज्य सचिवालय) की पुलिस ने कहा कि उन्होंने शिकायत हलासुरू गेट पुलिस थाना को भेज दी है। यह घटना उसी थानाक्षेत्र के अंतर्गत हुई थी। बता दें कि गौरी लंकेश के घर के बाहर आयोजित एक कार्यक्रम में कर्नाड ने कई अन्य कार्यकर्ताओं के साथ हिस्सा लिया था। इसमें हिस्सा लेने वाले लोगों ने माओवादियों के साथ संबंध होने के आरोप में देशभर से पांच कार्यकर्ताओं को उनके घरों पर नजरबंद किए जाने के विरोध में प्रदर्शन भी किया।

Related Post

OMG : एक आदमी की मौत का बदला लेने को ग्रामीणों ने मार डाले 300 मगरमच्छ

Posted by - July 16, 2018 0
इंडोनेशिया के वेस्ट पापुआ प्रांत  के सोरोंग जिले में हुई घटना, मगरमच्छों के एक फार्म पर किया हमला जकार्ता। इंडोनेशिया में मगरमच्छ का शिकार बने…

अगस्ता वेस्टलैंड : छत्तीसगढ़ सरकार से सुप्रीम कोर्ट ने तलब की फाइल

Posted by - November 16, 2017 0
नई दिल्ली। अगस्ता वेस्टलैंड वीआईपी हेलीकॉप्टर डील मामले में छत्तीसगढ़ सरकार की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने रमन…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *