Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

आर्टीफिशियल इंटेलीजेंस से वैज्ञानिकों ने पहली बार किया कैंसर का सफल इलाज

149 0

सिंगापुर। वैज्ञानिकों ने दुनिया में कैंसर के इलाज के लिए पहली बार कृत्रिम बुद्धिमत्‍ता (artificial intelligence) का इस्‍तेमाल किया है। उनका यह प्रयोग सफल रहा और इसके चौंकाने वाले नतीजे सामने आए हैं। यह अनूठा प्रयोग सिंगापुर में किया गया।

कैसे किया इलाज ?

वैज्ञानिकों ने कैंसर से गंभीर रूप से पीडि़त एक शख्स के इलाज में पहली बार आर्टीफिशियल इंटेलीजेंस का इस्तेमाल सफलतापूर्वक किया। इसने बीमारी को बढ़ने से पूरी तरह रोक दिया। शोधकर्ताओं के दल ने इस मरीज के इलाज में ‘क्यूरेट.एआई’ नाम की आर्टीफिशियल इंटेलीजेंस प्रणाली का इस्‍तेमाल किया। इससे मरीज पूरी तरह सामान्य हो गया और वह अपने जीवन में फिर से सक्रिय होने में सक्षम हो सका।

एआई के जरिए दी गईं दवाएं

शोधकर्ताओं ने कैंसर के मरीज को हर दवा की सटीक मात्रा देने के लिए ‘क्यूरेट.एआई’ नाम की आर्टीफिशियल इंटेलीजेंस प्रणाली का इस्‍तेमाल किया। इसके तहत मेटास्टेटिक कैस्ट्रेशन-रेसिस्टेंट प्रोस्टेट कैंसर (एमसीआरपीसी) के एक मरीज को जेडईएन-3694 और एंजालुटामाइट नाम की दवा के साथ कुछ दूसरी नई दवाएं मिलाकर दी गईं। बता दें कि जेडईएन-3964 अभी प्रायोगिक औषधि है। नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ सिंगापुर के डीन हो ने बताया, ‘कैंसर के इलाज में आमतौर पर डायनमिक डोजिंग का इस्तेमाल नहीं होता है। वास्तव में, कैंसर में दवाओं की खुराक में बदलाव ज्‍यादातर विषाक्तता को घटाने के लिए किया जाता है।’

Related Post

लखनऊ की आबोहवा को कम नुकसान पहुंचाती हैं गाड़ियां, दिल्ली की हवा सबसे जहरीली

Posted by - August 25, 2018 0
कोलकाता। गाड़ियों से निकलने वाले धुएं से शहर प्रदूषित हो रहे हैं। सबसे खराब हालत दिल्ली की है। यहां हर…

रिसर्च : हफ्ते में एक बार पिएं रेड वाइन और मसूड़ों की समस्या से पाएं छुटकारा

Posted by - November 1, 2018 0
नई दिल्‍ली। अगर आपको मसूड़ों से संबंधित कोई समस्‍या या बीमारी है  तो  हफ्ते में एक ग्लास रेड वाइन पीना…

राजस्थान के इस गांव में 22 साल बाद हुई कोई शादी, वजह जान चौंक जाएंगे आप

Posted by - May 5, 2018 0
धौलपुर। जीवन की मूलभूत सुविधाएं हमारे जीवन को किस कदर प्रभावित करती हैं इसका सटीक उदाहरण है राजस्थान के धौलपुर जिले…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *