मिसाल : स्कूल में कंप्यूटर नहीं, इसलिए ब्लैकबोर्ड पर माइक्रोसॉफ्ट वर्ड पढ़ाता है ये टीचर

83 0

घाना। एक बहुत प्रसिद्ध कविता है –

मुश्किलों से भाग जाना आसान होता है,

हर पहलू जिंदगी का इम्तेहान होता है,

डरने वालों को कुछ मिलता नहीं जिंदगी में,

लड़ने वालों के कदमों में जहान होता है।

अगर आपके सामने मुश्किलें आ रही हैं तो उनसे भाग जाना उस समस्‍या का हल नहीं होता है, हमें उसका सामना करना चाहिए। घाना के एक टीचर ने कुछ ऐसा ही किया है जिसकी वजह से आज लोग उसकी तारीफ करते नहीं थक रहे हैं।

उठाया अनोखा कदम

दुनिया में कई ऐसे स्कूल हैं जहां कंप्यूटर नहीं हैं। इस वजह से बच्चे कई ऐसी चीजों से वंचित रह जाते हैं जो आगे बढ़ने के लिए बहुत जरूरी हैं। दुनिया में कुछ टीचर ऐसे भी हैं जो बच्चों को अच्छी शिक्षा देने के लिए कई रास्ते निकाल लेते हैं। ऐसे ही एक टीचर हैं घाना के Owura Kwadwo। Owura घाना के कुमासी के रहने वाले हैं। वो जिस स्कूल में पढ़ाते हैं वहां एक भी कंप्यूटर नहीं है इसलिए वो ब्लैकबोर्ड पर ही बच्चों को माइक्रोसॉफ्ट वर्ड पढ़ा रहे हैं। वो अपने ब्लैकबोर्ड पर ही कंप्यूटर बनाकर इसके बारे में सारी जानकारियां बच्चों को दे रहे हैं।

क्या कहना है टीचर का

Owura Kwadwo का कहना है, ‘मैं ऐसा इसलिए कर रहा हूं क्योंकि इससे बच्चों को एक आइडिया तो हो जाएगा कि कंप्यूटर जैसी चीज भी इस दुनिया में होती है। इसके बारे में जानना सभी के लिए बहुत जरूरी है। इस तरह पढ़ाने से उन्हें चीजें समझने में आसानी होगी।’

सोशल मीडिया पर फोटो वायरल

Owura की क्लास में बच्चे भी बहुत मजे से पढ़ाई करते हैं। बच्चों को पढ़ाते हुए उनकी ये फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। लोग उनके इस कदम की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं। सच में अगर कुछ करने का जज्बा हो तो कुछ भी नामुमकिन नहीं है। Owura इस बात की मिसाल हैं।

Related Post

पूर्वोत्तर में लहराया भगवा, भाजपा की जीत से आसान हुई 2019 की राह

Posted by - March 4, 2018 0
त्रिपुरा में जबर्दस्त प्रदर्शन से इतिहास रचते हुए भाजपा ने वामदलों का गढ़ ध्वस्त किया मेघालय में एनपीपी के नेतृत्व…

CSIR के वैज्ञानिकों ने बनाया सौर ऊर्जा से चलने वाला वाटर प्यूरीफायर, लागत भी बहुत कम

Posted by - October 22, 2018 0
लखनऊ। भारतीय वैज्ञानिकों ने ‘ओनीर’ नामक एक ऐसा वाटर प्यूरीफायर विकसित किया है, जो सिर्फ दो पैसे प्रति लीटर की…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *